पंजाब पुलिस का मुख्तार अंसारी को यूपी सरकार को सौंपने से इनकार, दिया स्वास्थ का हवाला

पंजाब पुलिस ने मुख्तार अंसारी को यूपी भेजने से किया इनकार (फाइल फोटो)

पंजाब पुलिस ने मुख्तार अंसारी को यूपी भेजने से किया इनकार (फाइल फोटो)

पंजाब सरकार (Punjab Government) पहले भी अंसारी के स्वास्थ्य को लेकर और अन्य जानकारी जुटाने के लिए समय लेकर मामले को टालती रही है, जबकि यूपी सरकार (UP Government) लगातार मुख्तार अंसारी को वापिस ले जाने के प्रयास कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2021, 2:06 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पिछले दो साल से रोपड़ जेल में बंद यूपी के विधायक व माफिया डॉन मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) को पंजाब पुलिस ने एक बार फिर से उत्तर प्रदेश को सौंपने से इनकार कर दिया है. यह मामला सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) पहुंच चुका है, जहां पर यूपी सरकार ने अंसारी को पंजाब से ले जाने के लिए एक याचिका दायर की है. इस पर पंजाब सरकार ने जेल अधीक्षक की ओर से सुप्रीम कोर्ट में एफिडेविट दायर किया है कि अंसारी उच्च रक्तचाप, मधुमेह, अवसाद, पीठ दर्द और त्वचा की एलर्जी से पीड़ित है इसलिए उसे यूपी पुलिस को नहीं सौंपा जा सकता.

एफिडेविट में यूपी पुलिस की याचिका का खारिज करने की भी मांग की गई है. पंजाब सरकार ने कहा है कि वह अंसारी का इलाज कर रहे चिकित्सकों की राय पर काम कर रही है. पंजाब सरकार ने कहा कि मुख्तार अंसारी को यूपी से दूर रखने के लिए पहले से कोई मंशा नहीं थी. एफिडेविट में में ये भी कहा गया है कि यूपी सरकार की याचिका विचार के योग्य नहीं है. पंजाब के दायर किए गए एफिडेविट पर सुप्रीम कोर्ट में 8 फरवरी को सुनवाई होगी.

यह भी पढ़ें: UP News: BJP MLA अलका राय ने प्रियंका गांधी को लिखा पत्र, बोलीं- हत्यारे मुख्तार अंसारी को बनाया राज्य अतिथि!

Youtube Video

यूपी में अंसारी पर दर्ज हैं 14 मुकद्दमें

गौरतलब है कि पंजाब सरकार पहले भी अंसारी के स्वास्थ्य को लेकर और अन्य जानकारी जुटाने के लिए समय लेकर मामले को टालती रही है, जबकि यूपी सरकार लगातार मुख्तार अंसारी को वापिस ले जाने के प्रयास कर रही है. यूपी में इस बाहुबली विधायक पर 14 आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं, जिसक चलते यूपी सरकार अंसारी की कस्टडी चाहती है.

मुख्तार के खिलाफ सबसे बड़ा मुकदमा बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या का है, जो दिल्ली की सीबीआई कोर्ट में चल रहा है। इस मामले में कृष्णानंद राय की पत्नी बीजेपी विधायक अलका राय ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को चिट्ठी लिखकर बाहुबली मुख्तार अंसारी को बचाने का आरोप लगाए थे.





पंजाब की जेल में क्यों बंद है डॉन मुख्तार अंसारी

पंजाब पुलिस मुख्तार अंसारी को 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने के मामले में 2 साल पहले प्रॉडक्शन वॉरंट (Production Warrant) पर मोहाली ले आई थी. उस पर आरोप था कि मोहाली के एक बड़े बिल्डर को फोन करके खुद को मुख्तार अंसारी बताते हुए 10 करोड़ रुपये मांगे गए थे. 24 जनवरी 2019 को अदालत में पेश करने के बाद उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. तब से वह जांच के चलते रोपड़ जेल में बंद है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज