• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Charanjit Singh Channi: कौन हैं चरणजीत सिंह चन्‍नी, जो होंगे पंजाब के नए सीएम?

Charanjit Singh Channi: कौन हैं चरणजीत सिंह चन्‍नी, जो होंगे पंजाब के नए सीएम?


पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने चन्नी के मुख्यमंत्री बनने की घोषणा की.

पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने चन्नी के मुख्यमंत्री बनने की घोषणा की.

चरणजीत सिंह चन्नी भारत के पंजाब राज्य की चमकौर साहिब सीट से कांग्रेस के विधायक हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने आम आदमी पार्टी के चरनजीत सिंह को करीब 12000 वोटों के अंतर से हराया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    चंडीगढ़. चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब के अगले मुख्यमंत्री के तौर पर चुन लिया गया है. दो दिन के मंथन और बैठकों के बाद चरणजीत सिंह चन्नी का नाम मुख्यमंत्री पद के लिए फाइनल कर दिया गया. पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी और एक तरह से आधिकारिक घोषणा कर दी. माना जा रहा है कि चरणजीत सिंह चन्नी सोमवार को मुख्यमत्री पद की शपथ लेंगे. आइए जानते हैं कौन हैं चरणजीत सिंह चन्‍नी जो बनेंगे पंजाब के नए मुख्यमंत्री.

    चरणजीत सिंह चन्नी भारत के पंजाब राज्य की चमकौर साहिब सीट से कांग्रेस के विधायक हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने आम आदमी पार्टी के चरनजीत सिंह को करीब 12000 वोटों के अंतर से हराया था. इससे पहले 2012 के चुनावों में उन्होंने करीब 3600 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी. चरणजीत सिंह चन्नी युवा कांग्रेस से भी जुड़े रहे हैं और इस दौरान वे राहुल गांधी के करीब आए थे.

    दलित सिख चेहरा
    चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब कांग्रेस में दलित नेताओं में से एक हैं. उन्हें गांधी परिवार का बेहद करीबी माना जाता है. जानकारी के लिए बता दें कि भारत में सबसे अधिक दलित सिख पंजाब में हैं. इनकी संख्या लगभग 32% है. राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक, दलित सिख चेहरा होना उन्हें मुख्यमंत्री बनाए जाने के पक्ष में रहा है.

    बचपन रहा है उतार-चढ़ाव से भरा
    2 अप्रैल 1972 को चमकौर साहिब के पास मकरोना कलां गांव में जन्मे चरणजीत ने प्राथमिक शिक्षा सरकारी प्राथमिक स्कूल से प्राप्त की. उनके पिता का नाम एस. हरसा सिंह और माता अजमेर कौर है. उनके पिता ने अपने परिवार को आर्थिक सुरक्षा दिलाने के लिए बहुत संघर्ष किया, जिसके लिए वे मलेशिया भी चले गए। उन्होंने कड़ी मेहनत की और अंततः अपने उपक्रमों में सफल हुए. मलेशिया से लौटने के बाद चन्नी के पिता ने खरड़ शहर में एक टेंट हाउस का व्यवसाय शुरू किया और वहीं बस गए.

    कॉलेज समय में चन्नी अपने पिता के टेंट हाउस में उनकी मदद करते थे. इसके बाद जब स्नातक किया तो इन्होंने एक पेट्रोल पंप घनौली में खोला. खरड़ नगर परिषद ने चन्नी ने पार्षद का चुनाव लड़कर अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत की थी और बड़े अंतर से जीत दर्ज की थी. तत्कालीन मंत्री हरनेक सिंह घंडूआ ने किसी अन्य को नगर परिषद प्रधान बन दिया लेकिन पांच साल बाद चन्नी प्रधान बने. वह दो बार नगर परिषद के अध्यक्ष रहे. इसके बाद चन्नी ने चमकौर साहिब विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने का मन बनाया और कांग्रेस से टिकट की दावेदारी की लेकिन तब उन्हें टिकट नहीं मिली.

    निर्दलीय चरणजीत सिंह चन्नी ने चमकौर साहिब सीट से विधासनभा चुनाव जीत दर्जकर अपने आपको साबित किया. इसके बाद अकाली दल में शामिल हुए फिर पार्टी को अलविदा कहकर कांग्रेसी हो गए. वह इस सीट से तीन बार विधानसभा चुनाव जीत चुके हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज