पंजाब ने खोले दूसरे राज्यों के मरीजों के लिए दरवाजे, CM अमरिंदर सिंह बोले- अपना समझ करेंगे देखभाल

सरकार ने बाहरी राज्यों से आने वाले मरीजों के लिए एक चौथाई बेड सुरक्षित रखने का भी दावा किया है.  (सांकेतिक तस्वीर-PTI)

सरकार ने बाहरी राज्यों से आने वाले मरीजों के लिए एक चौथाई बेड सुरक्षित रखने का भी दावा किया है. (सांकेतिक तस्वीर-PTI)

Punjab Update: सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने कहा कि वे आक्सीजन की कमी के कारण हरियाणा और दिल्ली जैसे अन्य राज्यों से पंजाब में इलाज के लिए आने वाले किसी भी मरीज को राज्य में इलाज के लिए इनकार नहीं किया जाएगा.

  • Share this:
चंडीगढ. पंजाब ने दूसरे राज्यों से आने वाले कोरोना (Corona) के मरीजों के लिए अपने दरवाजे पूरी तरह से खोल दिए हैं। पंजाब सरकार (Punjab government) ने ऐलान किया है कि किसी भी राज्य का मरीज यदि इलाज के पंजाब आना चाहेगा तो उसका यहां पूर्ण इलाज किया जाएगा. सरकार ने बाहरी राज्यों से आने वाले मरीजों के लिए एक चौथाई बेड सुरक्षित रखने का भी दावा किया है.

अपना समझ कर करेंगे इलाज: कैप्टन

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि वे आक्सीजन की कमी के कारण हरियाणा और दिल्ली जैसे अन्य राज्यों से पंजाब में इलाज के लिए आने वाले किसी भी मरीज को राज्य में इलाज के लिए इनकार नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा हमें किसी भी मरीज को इलाज के लिए मना नहीं करना चाहिए. हम कभी भी किसी मरीज के लिए अपने दरवाजे बंद नहीं करेंगे. कैप्टन ने कहा कि दूसरे राज्यों से आने वाले मरीज भी हमारे लोग हैं क्योंकि हमारा एक ही मुल्क है. पंजाब में इलाज के लिए आने पर उनका स्वागत है और हम उन्हें अपना समझ कर उनकी देख-रेख करेंगे.

यह भी पढ़ें: COVID-19: आज से कुछ राज्यों में 18+ को लगनी शुरू हुई कोरोना वैक्सीन, कुछ में होगी देरी, जानें अपने यहां का हाल
ऑक्सीजन की कालाबाजारी के खिलाफ की जाएगी कार्रवाई

राज्य में आक्सीजन की निरंतर कमी की स्थिति का जायजा लेते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री  ने ऑक्सीजन सिलंडरों की कालाबजारी, जमाखोरी या निजी लाभ कमाने और राज्य से बाहर इसकी तस्करी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है. संकट की इस घड़ी में सहयोग कर रहे सभी प्राइवेट अस्पतालों को बेड्स की संख्या बढ़ाने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि सरकारी एजेंसियों की तरफ से इन अस्पतालों को अपेक्षित ऑक्सीजन सप्लाई की जाएगी और ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई भी दुर्घटना घटने पर उनके खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही नहीं की जाएगी.





आक्सीजन सप्लाई के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री के साथ अतिरिक्त ऑक्सीजन अलाटमेंट के लिए बात की है और केंद्र से और ऑक्सीजन टैंकरों की मांग भी करेंगे. उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार ने भारत सरकार के साथ यातायात के लिए टैंकरों की अलाटमेंट का मुद्दा उठाया है जिससे पंजाब को पूर्वी क्षेत्र से इसके ऑक्सीजन वितरण का लाभ मिल सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज