• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पंजाब पुलिस ने किया खालिस्‍तान लिबरेशन फोर्स की शह वाले गिरोह का भंडाफोड़

पंजाब पुलिस ने किया खालिस्‍तान लिबरेशन फोर्स की शह वाले गिरोह का भंडाफोड़

पंजाब में पुलिस ने हत्‍यारे गिरोह को पकड़ा है.  (File pic)

पंजाब में पुलिस ने हत्‍यारे गिरोह को पकड़ा है. (File pic)

पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के सहयोग से चल रहे एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है. यह गिरोह हत्‍या सहित अन्‍य कई आपराधिक घटनाओं में लिप्‍त पाया गया है. पुलिस ने इस गिरोह के 4 गुर्गों को गिरफ्तार भी कर लिया है, इनमें से एक भारतीय सेना का पूर्व सिपाही बताया गया है.

  • Share this:
    अमृतसर .  पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के सहयोग से चल रहे एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है. यह गिरोह हत्‍या सहित अन्‍य कई आपराधिक घटनाओं में लिप्‍त पाया गया है. पुलिस ने इस गिरोह के 4 गुर्गों को गिरफ्तार भी कर लिया है, इनमें से एक भारतीय सेना का पूर्व सिपाही बताया गया है. पुलिस ने आरोपियों से .32 बोर की दो पिस्तौल, 4 मैगजीन और गोला-बारूद के अलावा नकली पंजीकरण संख्या वाली एक इटियोस कार भी बरामद की है.

    पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिनकर गुप्ता ने मीडिया को बताया कि भारतीय सेना का पूर्व सिपाही और प्रमुख आरोपी जसप्रीत सिंह उर्फ ​​नूपी 2017 में हत्या के एक मामले में जेल में बंद था. वह 2012 में भारतीय सेना में सिपाही के तौर पर भर्ती हुआ था. नूपी पटियाला जेल से अप्रैल 2021 में भाग निकला था, तब से ही उसकी तलाश थी. अपनी फरारी के दौरान नूपी, विदेश स्थित केएलएफ संचालकों के संपर्क में आया. इन्‍हीं संचालकों ने नूपी को राज्य में लक्षित हत्याओं को अंजाम देने के लिए एक आतंकी गिरोह बनाने को कहा था.

    ये भी पढ़ें :  वाराणसी: गंगाजल की कोरोना रिपोर्ट आई, 16 जगह से लिए गए थे सैंपल, जानिए रिजल्ट

    ये भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल में अब मनाया जाएगा 'खेला होबे दिवस', CM ममता ने किया ऐलान

    जानकारी में बताया गया है कि रोपड़ के ग्राम फतेहपुर बुंगा निवासी जसविंदर सिंह, सिरसा जिले के ग्राम कालियावाला के गौरव जैन उर्फ ​​मिंकू और मेरठ यूपी के निवासी प्रशांत सिलेन उर्फ ​​कबीर को भी गिरफ्तार किया गया है. ये सभी एक साथ गिरोह के रूप में काम कर रहे थे. इन सभी से पूछताछ की जा रही है, कई जानकारियां मिल सकती हैं. एसएसपी खन्ना गुरशरण सिंह ग्रेवाल ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने जीटी रोड खन्‍ना पर विशेष चौकसी और जांच शुरू की थी, कि एक कार से बाहर निकले इन तीनों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी थी. लेकिन पुलिस ने किसी तरह जसविंदर सिंह और मिंकू को पकड़ लिया और बाद में कबीर व नूपी को उसके साथी के साथ गिरफ्तार किया.

    डीजीपी गुप्ता ने बताया कि नूपी से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि 3 जुलाई को खरड़ में पेट्रोल पंप से पचास हजार रुपए लूटे थे, वहीं बंदूक की नोंक पर एक कार छीन ली थी, यही कार पुलिस ने बरामद की है. नूपी ने स्‍वीकार किया है कि वह केएलएफ आतंकवादी संगठन के लिए काम कर रहा था. उसे भारत विरोधी गतिविधियों के लिए पिस्‍तौल आदि भी दी गई थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज