लाइव टीवी

पंजाब स्कूल वैन हादसा: प्रिंसिपल और चालक हत्या के आरोप में गिरफ्तार

भाषा
Updated: February 16, 2020, 8:31 PM IST
पंजाब स्कूल वैन हादसा: प्रिंसिपल और चालक हत्या के आरोप में गिरफ्तार
संगरूर, पंजाब में एक सड़क हादसे में 4 बच्चों की मौत हो गई

वैन (Van) को बेहद पुरानी बताए जाने पर पुलिस उपाधीक्षक (Police Sub-Inspector) ने कहा कि उन्होंने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारियों (Regional Transport Officers) से सभी रिकॉर्ड मांगे हैं.

  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के संगरूर (Sangrur) में एक जर्जर स्कूल वैन (School Van) में आग लगने के कारण चार बच्चों की झुलसकर मौत होने के एक दिन बाद पुलिस (Police) ने संबंधित स्कूल के मालिक सह प्रधानाध्यापक और चालक (Driver) के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है.

इसकी पुष्टि करते हुए सुनाम पुलिस उपाधीक्षक (Sub-Inspector) सुखबिंदर पाल सिंह ने कहा कि एक लड़की के पिता की शिकायत पर हत्या के आरोप में स्कूल (School) के मालिक सह प्रधानाध्यापक लखविंदर और वैन चालक दलबीर को गिरफ्तार कर लिया गया है.

'पहले भी ऑटो रिक्शा की हालत के बारे में दी गई थी चेतावनी'
इस बीच, बच्चों को संगरूर (Sangrur) में उनके पैतृक स्थल पर रविवार को अश्रुपूर्ण विदाई दी गई. पुलिस उपाधीक्षक ने फोन पर कहा, 'शिकायतकर्ता ने कहा है कि इससे पहले भी स्कूल के प्रधानाध्यापक और चालक को ऑटो रिक्शा की हालत के बारे में कई बार चेतावनी दी गई थी, जिसे उन्होंने बच्चों को स्कूल लाने और ले जाने के लिए उपलब्ध कराया था.' उन्होंने कहा, ‘‘शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि जो स्कूल वैन (School Van) उपलब्ध कराई गई थी, वह पहले के वाहन से भी जर्जर हालत में थी और आरोपियों की जानबूझकर की गई इस हरकत के कारण ही बच्चों की जान खतरे में पड़ी.’’



पुलिस ने मांगे गाड़ी से जुड़े सभी रिकॉर्ड
वैन को बेहद पुरानी बताए जाने पर पुलिस उपाधीक्षक (Police Sub-Inspector) ने कहा कि उन्होंने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारियों से सभी रिकॉर्ड मांगे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘यह सोमवार को उपलब्ध हो जाना चाहिए.’’

इससे पहले पुलिस ने प्रधानाध्यापक, स्कूल प्रबंधन और वैन चालक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 304 के तहत गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया था. बाद में इसमें हत्या का आरोप जोड़ दिया गया.

SGPC प्रमुख ने जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की
सिखों की शीर्ष धार्मिक संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (SGPC) ने प्रत्येक मृतक के परिजनों को एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा की है.

एसजीपीसी के प्रमुख गोबिंद सिंह लोंगोवाल ने उन अधिकारियों (Officers) के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की जिनकी लापरवाही के चलते खराब वाहनों को सड़कों पर चलने की इजाजत मिलती है. पुलिस ने कहा था कि वाहन के अंदर मौजूद जिन बच्चों की झुलसकर मौत हुई, उनमें करीब तीन साल की एक बच्ची भी थी जो पहली बार स्कूल जा रही थी.

स्कूल अधिकारियों ने शुक्रवार को ही खरीदा था वाहन में लगा LPG सिलेंडर
वाहन 1990 मॉडल का बताया जाता है जिसमें एलपीजी सिलेंडर (LPG Cylinder) लगा था. स्कूल के अधिकारियों ने इसे शुक्रवार को खरीदा था. बच्चों को लाने-ले जाने के लिए शनिवार को पहली बार इसे इस्तेमाल में लाया गया था. पुलिस ने बताया कि दुर्घटना लोंगोवाल-सिडसाचार रोड पर हुई. घटना के वक्त वैन में 12 बच्चे मौजूद थे.

उन्होंने बताया कि पास के खेत में काम कर रहे लोगों ने आठ बच्चों को जलते वाहन से बचा लिया था, जबकि तीन साल की बच्ची समेत चार बच्चों की झुलसकर मौत हो गई.

मुख्यमंत्री ने मृत बच्चों के परिजनों को 7.25 लाख रुपये अनुग्रह राशि देने की घोषणा की
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने घटना के संबंध में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए थे और राज्य परिवहन विभाग को राज्यभर में सड़कों की स्थिति और सभी स्कूल बसों की हालत की जांच शुरू करने का आदेश दिया है. उन्होंने मृत बच्चों के परिजनों को 7.25-7.25 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने का भी आदेश दिया.

यह भी पढ़ें: कोलकाता के राजा बाजार में आग, दमकल की 12 गाड़ियां मौजूद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 16, 2020, 7:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर