दिल्‍ली में भी ‘पूर्वांचल’ पर चढ़ा भगवा रंग

बीजेपी की पूर्वांचल नीति कामयाब रही है. इससे यह भी लगता है कि भविष्‍य में दिल्‍ली की राजनीति में पूर्वांचल के लोगों का दखल और बढ़ेगा

ओम प्रकाश | News18India.com
Updated: April 26, 2017, 5:19 PM IST
दिल्‍ली में भी ‘पूर्वांचल’ पर चढ़ा भगवा रंग
मनोज तिवारी
ओम प्रकाश
ओम प्रकाश | News18India.com
Updated: April 26, 2017, 5:19 PM IST
दिल्‍ली नगर निगम चुनाव में बीजेपी की प्रचंड जीत के पीछे पूर्वांचल फैक्‍टर ने भी काम किया. मनोज तिवारी के रूप में पूर्वांचल और बिहार के वोटरों को लुभाने में पार्टी कामयाब रही.

कभी कांग्रेस महाबल मिश्रा के जरिए पूर्वांचल के वोटरों में दांव लगाती थी, लेकिन इस बार उसकी आपसी फूट की वजह से कोई रणनीति नहीं बन पाई.



Expert View: ऐसे प्रदर्शन की उम्‍मीद नहीं थी ‘आप’ से

मनोज तिवारी ने कहा कि ‘दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी दोनों ने पूर्वांचल वासियों को वोट बैंक तो बनाया पर कभी भी वह सम्मान नहीं दिया, जिसके वे हकदार थे. बीजेपी ने मुझे जो सम्मान दिया है, वह पूरे पूर्वांचल समाज का सम्मान है...’ अपने ऐसे बयानों से उन्‍होंने पूर्वांचल के वोटरों को साधा.

वरिष्‍ठ पत्रकार आलोक भदौरिया का कहना है कि बीजेपी की पूर्वांचल नीति कामयाब रही है. इससे यह भी लगता है कि भविष्‍य में दिल्‍ली की राजनीति में पूर्वांचल के लोगों का दखल और बढ़ेगा. यहां 35 से 40 फीसदी पूर्वांचल के लोग हैं, जो चुनावों में निर्णायक साबित हो रहे हैं.

MCD Result : 270 में से 184 पर बीजेपी का कब्‍जा, आप नं- 2 और कांग्रेस नं- 3 पर खिसकी

वैसे पारंपरिक रूप से पूर्वांचल के मतदाता बीजेपी और कांग्रेस को ही मतदान करते रहे हैं, लेकिन वर्ष 2015 में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में इसमें आम आदमी पार्टी ने सेंध लगा ली और उसे प्रचंड जीत मिली.
Loading...

bjp_mcd जीत का जश्न

विश्‍लेषकों का कहना है कि इस बार यह वोट इसलिए भी बीजेपी को गया है क्‍योंकि मनोज तिवारी यहां अध्‍यक्ष हैं और यूपी में सीएम बनाए गए योगी आदित्‍यनाथ पूर्वांचल से हैं.

हालांकि पूर्वांचल के लोगों को सबसे ज्‍यादा 54 टिकट कांग्रेस ने दिए थे. बीजेपी ने 38, आम आदमी पार्टी ने 36 टिकट पूर्वांचल से आने वालों को दिए. लेकिन कामयाबी मिली बीजेपी को.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...