अपना शहर चुनें

States

बढ़ीं केपी शर्मा ओली की मुश्किलें, नेपाली सत्ताधारी संसदीय दल के नेता चुने गए दहल

पुष्प कुमार दहल. (तस्वीर-ANI)
पुष्प कुमार दहल. (तस्वीर-ANI)

बुधवार को पार्टी अध्यक्ष माधव कुमार नेपाल (Madhav Kumar Nepal) और दहल (Pushpa Kamal Dahal) के बीच हुई बैठक के बाद यह फैसला पार्टी ने सर्वसम्मति से लिया है. नेपाल में मध्यावधि चुनाव की तारीखों की घोषणा भी कर दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 23, 2020, 6:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नेपाल में राजनीतिक उथल-पुथल जारी है. प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) की जगह अब देश की सत्ताधारी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के नेता पुष्प कुमार दहल (Pushpa Kamal Dahal) चुने गए हैं. बुधवार को पार्टी अध्यक्ष माधव कुमार नेपाल और दहल के बीच हुई बैठक के बाद यह फैसला पार्टी ने सर्वसम्मति से लिया है. नेपाल में मध्यावधि चुनाव की तारीखों की घोषणा भी कर दी गई है. नेपाल में 30 अप्रैल 2021 और 10 मई 2021 को चुनाव होंगे और इसके बाद वहां नई सरकार का गठन किया जाएगा.

इससे पहले मंगलवार को पार्टी में एक और बड़ा बदलाव हुआ. केपी शर्मा ओली की जगह अब माधव कुमार नेपाल पार्टी के चेयरमैन बन गए हैं. कहा जा रहा है कि पार्टी पर ओली की पकड़ अब ढीली पड़ती जा रही है. लगातार उनका विरोधी गुट ताकतवर हो रहा है.


गौरतलब है कि ओली ने संसद भंग करने के अपने फैसले का बचाव करते हुए कहा था कि नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के भीतर गतिरोध की वजह से उनकी सरकार का कामकाज प्रभावित होने के कारण नया जनादेश लेने की जरूरत है. ओली ने अपने प्रतिद्वंद्वियों को आश्चर्यचकित करते हुए रविवार को संसद भंग करने की सिफारिश कर दी और इसे राष्ट्रपति की मंजूरी भी मिल गई. ओली और पूर्व प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल 'प्रचंड' के बीच सत्ता के लिए लंबे समय से चल रहे संघर्ष के बीच यह कदम उठाया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज