लाइव टीवी

सिख दंगे: पूर्व PM के बयान पर भड़का नरसिम्हा राव का परिवार, पोते ने कहा- मांगें माफी

News18Hindi
Updated: December 5, 2019, 11:58 AM IST
सिख दंगे: पूर्व PM के बयान पर भड़का नरसिम्हा राव का परिवार, पोते ने कहा- मांगें माफी
एनवी सुभाष ने कहा कि वो मनमोन सिंह के बयान से बेहद आहत हैं

पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह (Former Prime Minister Manmohan Singh ) ने ये बातें गुजराल की 100वीं जयंती पर आयोजित एक समारोह में कहीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 5, 2019, 11:58 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह (Former Prime Minister Manmohan Singh) के 1984 के सिख दंगे पर दिए बयान को लेकर नरसिम्हा राव का परिवार बेहद नाराज़ है. राव के पोते एनवी सुभाष ने कहा है कि मनमोहन सिंह को तुरंत बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए. डॉक्टर सिंह ने कल कहा था कि अगर तत्कालीन गृह मंत्री पीवी नरसिम्हा राव (Narsimha Rao) ने इंद्र कुमार गुजराल (IK Gujaral) की सलाह मानी होती, तो दिल्ली में सिख नरसंहार को टाला जा सकता था. पूर्व प्रधानमंत्री ने ये बातें गुजराल की 100वीं जयंती पर आयोजित एक समारोह में कहीं.

पोते  ने जताई नाराज़गी
एनवी सुभाष ने कहा कि वो मनमोहन सिंह के बयान से बेहद आहत हैं. उन्होंने कहा कि अगर वो नरसिम्हा राव को इस दंगे के लिए ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं तो उन्हें इसके लिए राजीव गांधी को भी दोषी ठहराना चाहिए. उन्होंने आगे कहा, 'अगर वो सिख दंगे से आहत थे तो उन्हें नरसिम्हा राव की कैबिनेट में शामिल नहीं होना चाहिए था. हम लोग चाह रहे हैं कि मनमोहन सिंह अपने बयान के लिए बिना शर्त हमारे परिवार से माफी मांगे.'

मनमोहन सिंह का बयान

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा, 'दिल्‍ली में जब 84 के सिख दंगे हो रहे थे, गुजराल जी उस समय के गृह मंत्री नरसिम्हा राव के पास गए. उन्‍होंने राव से कहा कि हालात बेहद गंभीर है और सरकार को जल्द से जल्द सेना को बुलाने की जरूरत है, लेकिन तत्कालीन सरकार ने गुजराल की सलाह पर गौर नहीं किया.'

क्या हुआ था सिख दंगे में?
1984 में इंदिरा गांधी की उनके अंगरक्षकों ने हत्या कर दी थी. इसके बाद देश के कई शहरों में सिख विरोधी दंगे भड़क उठे थे.  देश भर में 3 हज़ार से ज़्यादा लोग मारे गए थे. अकेले दिल्ली में 2 हज़ार से ज़्यादा लोगों की जान गई थी. इंदिरा गांधी की हत्या के बाद भीड़ सड़कों पर उतर आई और खून के बदले खून का नारा लगा रही थी.

ये भी पढ़ें:

महाराष्ट्र में सरकार बनाते ही CM उद्धव को झटका, 400 शिवसैनिक BJP में शामिल
महंगाई पर वित्तमंत्री बोलीं- मैं ज्यादा प्याज-लहसुन नहीं खाती, चिंता न करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2019, 11:41 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर