होम /न्यूज /राष्ट्र /

ऑस्ट्रेलिया ने हिंद-प्रशांत के लिए क्वाड को बताया बेहद अहम, इशारों में चीन पर साधा निशाना

ऑस्ट्रेलिया ने हिंद-प्रशांत के लिए क्वाड को बताया बेहद अहम, इशारों में चीन पर साधा निशाना

अरब सागर में नवंबर 2020 में मालाबार नौसेना अभ्यास के दौरान भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान के विमानवाहक और जंगी जहाज. (एपी फाइल फोटो)

अरब सागर में नवंबर 2020 में मालाबार नौसेना अभ्यास के दौरान भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान के विमानवाहक और जंगी जहाज. (एपी फाइल फोटो)

Quad Indo Pacific News: ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मारिस पायने ने कहा, ''हम हिंद-प्रशांत क्षेत्र में एक मजबूत नेतृत्व की भूमिका निभाने के लिए भारत की सराहना करते हैं.''

    नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मारिस पायने ने शुक्रवार को कहा कि क्वाड ”तेजी से” और बहुत ”प्रभावी रूप से” उभरा है और ऑस्ट्रेलिया इस क्षेत्र में एक मजबूत नेतृत्व की भूमिका निभाने के लिए भारत की सराहना करता है.

    ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पायने ने हिंद-प्रशांत के समक्ष ”महत्वपूर्ण चुनौतियों” के बारे में बात की और कहा कि ऑस्ट्रेलिया एक ऐसा क्षेत्र चाहता है जहां बड़े और छोटे देशों के अधिकारों का सम्मान किया जाए तथा कोई भी ”एकल प्रभावशाली शक्ति” दूसरों के लिए परिणाम तय नहीं करे. उनकी इस टिप्पणी को परोक्ष रूप से चीन के संदर्भ में देखा गया.

    Exclusive: तालिबान पर दबाव बनाने के लिए हमारे पास कई साधन, अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा

    पायने ने कहा, ”हम इस क्षेत्र में एक मजबूत नेतृत्व की भूमिका निभाने के लिए भारत की सराहना करते हैं.” भारत और ऑस्ट्रेलिया के विदेश और रक्षा मंत्रियों के बीच होने वाली पहली ‘टू-प्लस-टू’ वार्ता के लिए ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री मारिस पायने और रक्षा मंत्री डटन शुक्रवार को यहां पहुंचे.

    पायने ने कहा, ”भारत की आजादी के बाद से ही ऑस्ट्रेलिया ने गांधी, नेहरू, पटेल और आंबेडकर द्वारा शुरू की गई साहसिक राष्ट्र-निर्माण परियोजना की प्रशंसा की है जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक उनके उत्तराधिकारियों द्वारा जारी रखा गया है.” उल्लेखनीय है कि भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान क्वाड गठबंधन का हिस्सा हैं.

    Tags: Australia, China, India, Quad

    अगली ख़बर