अपना शहर चुनें

States

पंजाब में पकड़े गए क्वाडकॉप्टर ड्रोन टीम फ्लेव हथियार, पाकिस्तानी ड्रग्स; दो गिरफ्तार

लखबीर सिंह ने खुलासा किया कि उन्होंने लगभग चार महीने पहले दिल्ली से एक क्वाडकॉप्टर ड्रोन मंगवाया था. (सांकेतिक तस्वीर)
लखबीर सिंह ने खुलासा किया कि उन्होंने लगभग चार महीने पहले दिल्ली से एक क्वाडकॉप्टर ड्रोन मंगवाया था. (सांकेतिक तस्वीर)

पंजाब पुलिस के अधिकारी दिनकर सिंह ने कहा कि जांच के दौरान, लखबीर सिंह ने खुलासा किया कि उन्होंने लगभग चार महीने पहले दिल्ली से एक क्वाडकॉप्टर ड्रोन मंगवाया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 15, 2020, 9:11 PM IST
  • Share this:
अमृतसर. पाकिस्तान (Pakistan) के तस्करों और खालिस्तान (Khalistan) के गुर्गों के जरिए भारत (India) में नशीले पदार्थों और हथियारों की तस्करी करने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है, पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने मंगलवार को एक बयान में ये जानकारी दी. पुलिस ने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों के पास से मिनी रिसीवर और कैमरा सपोर्ट वाला एक क्वाडकॉप्टर ड्रोन, .32 बोर की रिवॉल्वर, एक एसयूवी, कारतूस और ड्रग्स बरामद किए गए हैं.
अमृतसर (ग्रामीण) पुलिस ने जिन दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है उनकी पहचान लखबीर सिंह और बछित्तर सिंह के रूप में हुई है. पुलिस ने कहा कि आरोपियों से पूछताछ में चार अन्य तस्करों के साथ उनके कथित संबंध का पता चला है, जो अमृतसर जेल (Amritsar Jail) में बंद थे.

पंजाब पुलिस के अधिकारी दिनकर सिंह ने कहा कि जांच के दौरान, लखबीर सिंह ने खुलासा किया कि उन्होंने लगभग चार महीने पहले दिल्ली से एक क्वाडकॉप्टर ड्रोन मंगवाया था. ये ड्रोन उसके सहयोगी बछित्तर सिंह के गुरु अमरदास एवेन्यू, अमृतसर के आवास पर था. उन्होंने कहा "...लखबीर सिंह अजनाला के चार प्रमुख ड्रग तस्करों के साथ लगातार संपर्क में था, जो वर्तमान में अमृतसर जेल में बंद हैं. जेल में तलाशी के दौरान लखबीर के सहयोगी और ड्रग तस्कर सुरजीत मसीह के कब्जे से एक टच स्मार्टफोन बरामद हुआ.

ये भी पढ़ें- रेलवे ने किया बड़ा खुलासा! किसान आंदोलन के चलते अब तक 20 लाख मुसाफिरों की छूटी ट्रेन
पाकिस्तान के समर्थकों के संपर्क में था लखबीर सिंह


पुलिस ने कहा कि आरोपी लखबीर सिंह ने विदेशी तस्करों के साथ एक व्यापक संचार नेटवर्क स्थापित किया था और एक कुख्यात पाकिस्तान स्थित तस्कर चिश्ती, जो पाकिस्तान स्थित खालिस्तान समर्थक गुर्गों के साथ संपर्क में था. इस संबंध में मामला दर्ज किया गया है.

ड्रोन का उपयोग पाकिस्तान में ड्रग तस्करों और आतंकवादियों द्वारा भारतीय क्षेत्र के अंदर ड्रग्स और हथियारों को हवाई माध्यम से पहुंचाने के लिए किया जा रहा है. पिछले कुछ वर्षों में, भारतीय अधिकारियों ने इस उद्देश्य के लिए उपयोग किए जाने वाले कई ड्रोनों पर रोक लगाई है.

केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि भारत-पाकिस्तान सीमा पर सुरंगों और ड्रोनों की बरामदगी भारत के प्रति पड़ोसी देश की दुश्मनी का प्रमाण है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज