Home /News /nation /

भारतीय वायुसेना में कल शामिल होगा राफेल विमान, अंबाला एयरबेस पर होगा खास समारोह

भारतीय वायुसेना में कल शामिल होगा राफेल विमान, अंबाला एयरबेस पर होगा खास समारोह

राफेल विमानों का निर्माण फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट एविएशन ने किया है.

राफेल विमानों का निर्माण फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट एविएशन ने किया है.

Rafale aircraft: राफेल के भारतीय वायुसेना में शामिल किए जाने से पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, कल सुबह 10.00 बजे राफेल विमान को औपचारिक रूप से अंबाला के वायु सेना स्टेशन में भारतीय वायु सेना में शामिल किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. पूर्वी लद्दाख (East Ladakh) में चीन के साथ सीमा विवाद (China border dispute) को लेकर बढ़ते तनाव के बीच पांच राफेल (Fighter aircraft Rafale) लड़ाकू विमानों की पहली खेप को गुरुवार को अंबाला एयरबेस (Ambala Airbase) पर औपचारिक रूप से वायुसेना में शामिल किया जाएगा. लड़ाकू विमान राफेल भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) की क्षमता को कई गुणा बढ़ा देंगे. भारतीय वायुसेना में राफेल के औपचारिक रूप से शामिल होने पर अंबाला एयरबेस पर एक खास समारोह का आयोजन किया गया है. गुरुवार सुबह 10 बजे से होने वाले इस कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh), फ्रांस के रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, वायुसेना प्रमुख आर के एस भदौरिया और रक्षा सचिव अजय कुमार शिरकत करेंगे.

    राफेल के भारतीय वायुसेना में शामिल किए जाने से पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, कल सुबह 10.00 बजे राफेल विमान को औपचारिक रूप से अंबाला के वायु सेना स्टेशन में भारतीय वायु सेना में शामिल किया जाएगा. विमान 17 स्क्वाड्रन, "गोल्डन एरो" का हिस्सा होगा. राफेल जेट भारत का दो दशकों से अधिक समय में लड़ाकू विमानों का पहला बड़ा अधिग्रहण है.



    राफेल और तेजस विमान दिखाएंगे हवाई करतब
    वायुसेना के एक प्रवक्ता ने कार्यक्रम को बल के इतिहास का बेहद महत्वपूर्ण मील का पत्थर करार देते हुए कहा, 'कार्यक्रम के दौरान राफेल विमान का औपचारिक अनावरण किया जाएगा. पारंपरिक 'सर्वधर्म पूजा' की जाएगी और राफेल और तेजस विमान हवाई करतब दिखाएंगे.'

    पूर्वी लद्दाख, सीमा विवाद, East Ladakh, border dispute,चीन, अंबाला एयरबेस, Ambala Airbase Rafale, Indian Air Force, भारतीय वायुसेना, fighter aircraft
    29 जुलाई को पहली खेप के तहत पांच राफेल विमान भारत लाए गए थे.


    राफेल विमानों का निर्माण फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट एविएशन ने किया है. वायुसेना के प्रवक्ता विंग कमांडर इंद्रनील नंदी ने कहा कि राफेल विमानों को बल के 17वें स्क्वॉड्रन में शामिल करने से पहले उन्हें पानी की बौछारों से पारंपरिक सलामी दी जाएगी. 29 जुलाई को पहली खेप के तहत पांच राफेल विमान भारत लाए गए थे. भारत ने लगभग चार साल पहले फ्रांस से 59,000 करोड़ रुपये में 36 राफेल विमान खरीदने का सौदा किया था.undefined

    Tags: Ambala news, China, India china, Indian Airforce, Indian army, Rafale, Rajnath Singh

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर