राफेल डील: संसद में राहुल ने उछाला 'AA' का नाम, तो जेटली ने याद दिलाई 'Q' की गोद

राहुल गांधी के भाषण के बाद बीजेपी की ओर से केंद्रीय वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने मोर्चा संभाला. उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी ने देश को निराश किया है.

News18Hindi
Updated: January 2, 2019, 6:20 PM IST
राफेल डील: संसद में राहुल ने उछाला 'AA' का नाम, तो जेटली ने याद दिलाई 'Q' की गोद
लोकसभा में राफेल सौदे को लेकर बुधवार को चर्चा के दौरान बीजेपी और कांग्रेस ने एक दूसरे पर जमकर निशाने साधे.
News18Hindi
Updated: January 2, 2019, 6:20 PM IST
लोकसभा में राफेल सौदे को लेकर बुधवार को चर्चा के दौरान बीजेपी और कांग्रेस ने एक दूसरे पर जमकर निशाना साधा. इस दौरान जब राहुल गांधी ने कारोबारी अनिल अंबानी का नाम लेना चाहा तो स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने उन्‍हें ऐसा करने से रोक दिया. इस पर राहुल ने हैरानी जताते हुए पूछा, 'मैं उनका नाम नहीं ले सकता?' महाजन ने इस पर कहा कि ऐसा करना नियमों के खिलाफ होगा. राहुल ने अपना सवाल फिर से दोहराया तो उन्‍हें वही जवाब मिला. इसके बाद राहुल ने पूछा, 'क्‍या मैं उन्‍हें 'AA' कह सकता हूं? क्‍या ऐसा करना ठीक होगा?' महाजन ने इस पर हामी भर दी.

इसके बाद राहुल ने अपने भाषण में कई मौकों पर 'AA' कहा. इस दौरान एक-दो बार ऐसा भी हुआ जब वे उनका नाम बोल गए, हालांकि तुरंत गलती सुधारते हुए कहा, 'माफ कीजिएगा 'AA'. इस पर कांग्रेसी खेमे से ठहाके सुनाई दिए.

राफेल डील में ‘पूरी दाल काली, प्रधानमंत्री से सवाल पूछ रहा है सारा देश: राहुल

राहुल ने अपने भाषण में कहा कि इस मामले में ‘पूरी दाल काली’ है और अब पूरा देश प्रधानमंत्री से सवाल पूछ रहा है कि किसके कहने पर राफेल का सौदा बदला गया. गांधी ने कहा कि यूपीए सरकार के समय वायुसेना के कहने पर 126 राफेल विमान खरीदने की प्रक्रिया आगे बढ़ी थी, लेकिन प्रधानमंत्री ने नए सौदे में 36 विमान कर दी गई.

कांग्रेस अध्यक्ष ने सवाल किया कि प्रधानमंत्री बताएं कि किसके कहने पर यह किया गया, क्या वायुसेना ने यह कहा था? उन्‍होंने इस मामले में जेपीसी की मांग करते हुए कहा कि भाजपा के लोग डरे नहीं, जेपीसी की जांच कराएं. दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा.

जेटली ने फोड़ा बोफोर्स बम, पूछा- राहुल छोटे थे तो क्‍या मिस्‍टर Q की गोद में खेलते थे?

राहुल गांधी के भाषण के बाद बीजेपी की ओर से केंद्रीय वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने मोर्चा संभाला. उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी ने देश को निराश किया है. जेटली बोले, 'कुछ लोगों का स्‍वभाव ही सच को नापसंद करना होता है. इनकी (गांधी परिवार) विरासत यही रही है. यह सिलसिला सेंट किट्स मामले से शुरू होता है. इसमें भी इनकी बात गलत निकली. फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति मैक्रो के संदर्भ में भी जो बात कही, उसे गलत बताया गया. राहुल गांधी सुप्रीम कोर्ट के फैसले को चुनौती कैसे दे सकते हैं?'
Loading...

जेटली ने राहुल पर कटाक्ष करते हुए कहा, 'जब वे नामों को छोटा कर बोल ही रहे हैं तो वह भी इस ट्रेंड को बरकरार रखेंगे.' इसके बाद उन्‍होंने बोफोर्स मामले के बिचौलिए ओतावियो क्वातरोची का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए कहा, 'जब राहुल छोटे थे तो क्‍या वे 'क्‍यू' की गोद में खेला करते थे? यह नाम अक्‍सर भ्रष्‍ट सौदे के दौरान आता रहता है.'

वित्त मंत्री ने कहा कि बोफोर्स मामले में ‘क्यू’ के संदर्भ में यह बात सामने आई थी कि इन्हें हर कीमत पर बचाया जाना चाहिए. राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इसलिये इन्हें संक्षेपण और कौमा तथा अंकगणित की समझ ज्यादा है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट
First published: January 2, 2019, 5:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...