लाइव टीवी

पेरिस: राफेल दफ्तर में घुसपैठ की कोशिश, पेपर चोरी होने की जांच करेगी IAF टीम

News18.com
Updated: May 27, 2019, 1:43 AM IST
पेरिस: राफेल दफ्तर में घुसपैठ की कोशिश, पेपर चोरी होने की जांच करेगी IAF टीम
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

सूत्रों के अनुसार, प्राथमिक जांच से पता चला है कि कोई भी हार्ड डिस्‍क या दस्‍तावेज चोरी नहीं हुआ है.

  • News18.com
  • Last Updated: May 27, 2019, 1:43 AM IST
  • Share this:
पेरिस में राफेल प्रोजेक्‍ट मैनेजमेंट टीम के कार्यालय में 19 मई को कुछ लोगों ने घुसपैठ करने की कोशिश की थी. इसे लेकर अब भारतीय वायुसेना एक फॉरेंसिक टीम को फ्रांस भेज सकती है. फॉरेंसिक टीम यह पता लगाने की कोशिश करेगी कि राफेल डील से संबंधित पेपर चोरी या कॉपी तो नहीं किए गए हैं.

सूत्रों के अनुसार, प्राथमिक जांच से पता चला है कि कोई भी हार्ड डिस्‍क या दस्‍तावेज चोरी नहीं हुआ है. एएनआई ने सरकारी सूत्रों के हवाले से कहा है कि फॉरेंसिक टीम वहां जाकर राफेल से संबंधित दस्‍तावेजों के सुरक्षित होने की पुष्टि करेगी. एक साइबर फॉरेंसिक एक्‍सपर्ट समेत एक टीम भेजने की योजना है.

जिस कार्यालय में घुसपैठ की गई थी वे पेरिस में भारत के लिए 36 राफेल लड़ाकू विमानों के दस्‍तावेजों की निगरानी कर रहा है. पेरिस में भारतीय वायुसेना की राफेल परियोजना प्रबंधन टीम के कार्यालय में कुछ लोग अवैध रूप से घुस गए थे. हालांकि सूत्रों का कहना है कि कोई भी डाटा या हार्डवेयर चोरी नहीं हुआ है.

ये भी पढ़ें: PHOTOS: चुनाव जीतने के बाद PM मोदी ने यूं लिया मां का आशीर्वाद

राफेल प्रोजेक्‍ट टीम का नेतृत्‍व एक ग्रुप कैप्‍टन रैंक का अधिकारी कर रहा है. इस टीम में दो पायलट, एक लॉजिस्टिक अधिकारी, एक हथियार विशेषज्ञ और एक इंजीनियर है. यह टीम भारतीय कर्मचारियों को विमान के रखरखाव और उड़ान संबंधी प्रशिक्षण भी दे रही है.

यही टीम राफेल विमानों से संबंधित दस्‍तावेजों की देखभाल भी करती है. पेरिस स्थित भारतीय वायुसेना की राफेल परियोजना प्रबंधन का दफ्तर राफेल विमान बनाने वाली कंपनी दासौ एविएशन के परिसर में ही है. हालांकि इस मामले पर भारतीय वायुसेना या रक्षा मंत्रालय की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

ये भी पढ़ें: रायबरेली के नाम सोनिया गांधी की चिट्ठी: 'जो कुर्बानी देनी पड़ेगी, दूंगी'पेरिस की पुलिस घुसपैठ के मामले की जांच कर रही है. सूत्रों के अनुसार, पुलिस का कहना है कि घुसपैठ का उद्देश्‍य डाटा चोरी हो सकता है, क्‍योंकि प्रशासनिक कार्यालयों में कीमती सामान या पैसे नहीं रखे जाते हैं. राफेल का मुद्दा भारत में पिछले काफी समय से गरमाया हुआ था.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 27, 2019, 1:43 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर