KBC स्पेशल: 1 करोड़ जीतने वाली पहली महिला राहत तस्लीम बनना चाहती थीं डॉक्टर, अब करती हैं ये काम

News18Hindi
Updated: June 30, 2019, 5:53 AM IST
KBC स्पेशल: 1 करोड़ जीतने वाली पहली महिला राहत तस्लीम बनना चाहती थीं डॉक्टर, अब करती हैं ये काम
झारखंड की राहत तस्लीम केबीसी में 1 करोड़ की रकम जीतने वाली पहली महिला थीं (फाइल फोटो)

केबीसी में 1 करोड़ की रकम जीतने वाली पहली महिला राहत तस्लीम हैं. वे 2010 में प्रसारित हुए चौथे सीजन में करोड़पति बनी थीं.

  • Share this:
सुपरस्टार अमिताभ बच्चन जल्द ही भारत का सबसे पॉपुलर क्विज शो कौन बनेगा करोड़पति का 11वां सीजन लेकर आने वाले हैं. केबीसी 11 की टैगलाइन है, 'अगर कोशिश रखोगे जारी, तो केबीसी हॉटसीट पर बैठने की इस बार आपकी होगी बारी.' यह भारत के सबसे पुराने टीवी शो में से एक है. इसका पहला एपिसोड 3 जुलाई, 2000 को प्रसारित हुआ था.

केबीसी में 1 करोड़ की रकम जीतने वाली पहली महिला राहत तस्लीम हैं. वे 2010 में प्रसारित हुए चौथे सीजन में करोड़पति बनी थीं. शो जीतने से बने पैसों से उन्होंने गारमेंट्स का एक शोरूम खोल लिया था.

5 करोड़ के सवाल का नहीं दे सकी थीं सही जवाब
राहत ने एक बार मीडिया को इंटरव्यू में बताया था कि कई कंपनियों ने उन्हें शो जीतने के बाद अपने प्रॉडक्ट्स का ब्रांड एंबेस्डर बनने का न्यौता दिया था लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया था. फिलहाल वे गारमेंट्स का बिजनेस चलाती हैं. तस्लीम ने माना था कि शो जीतने के बाद उनकी जिंदगी में बड़े बदलाव आए थे. तस्लीम पांच करोड़ के सवाल का सही जवाब नहीं दे पाई थीं और उन्हें एक करोड़ जीतकर ही संतोष करना पड़ा था.

झारखंड के गिरिडीह से आती हैं तस्लीम
तस्लीम ने बताया था कि उन्हें इसमें से 70 लाख रुपये ही मिले थे. तस्लीम मूलत: गिरिडीह की निवासी हैं. उनके परिवार में उनके पति और बेटा हैं. कुछ साल पहले उनकी बेटी की शादी हो चुकी है. अब वो सऊदी अरब में अपने ससुराल में रहती है. उनका बेटा ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी कर चुका है और बिजनेस में हाथ बंंटाता है.

बचपन में बनना चाहती थीं डॉक्टर
Loading...

हालांकि दो साल पहले तक उन्होंने कार सिर्फ इसलिए नहीं ली थी क्योंकि उनके पास कार खड़ी करने की जगह नहीं थी. वे कहती हैं कि केबीसी से लौटने के बाद उनकी पहले वाली बाइक के अलावा उनके बेटे ने सिर्फ एक और बाइक ली है.

तस्लीम खुद के बारे में कहती हैं कि वे आर्थिक परेशानियों में पली हैं और इतने पैसों के बारे में सोचती भी नहीं थीं. वे बताती हैं कि वे सिलाई करके पैसे जुटाती थीं और बचपन में डॉक्टर बनना चाहती थीं. लेकिन पैसों की कमी के चलते ज्यादा पढ़-लिख न सकीं. हालांकि अब वे अपने बिजनेस में बहुत व्यस्त हो चुकी हैं.

यह भी पढ़ें: जब कौन बनेगा करोड़पति पर बनी फिल्म और अमिताभ बच्चन ने की उसकी आलोचना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 30, 2019, 5:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...