राहुल ने कहा- जनता को नहीं मिला हक का राशन, पासवान बोले- तथ्य से परे हैं बातें

राहुल ने कहा- जनता को नहीं मिला हक का राशन, पासवान बोले- तथ्य से परे हैं बातें
केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने राहुल गांधी के ट्वीट का जवाब दिया है (फाइल फोटो)

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) ने ट्वीट कर एनएफएसए की लिस्ट अपडेट करने को लेकर सरकार पर आरोप लगाए थे जिसके जवाब में केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने कहा है कि उनकी बातें तथ्यों से परे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2020, 9:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय खाद्यान्न मंत्री राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) के एक ट्वीट के जवाब में कहा है कि उनकी एनएफएसए की सूची विस्तार न करने की बातें तथ्यों से परे हैं. केंद्र सरकार (Central Government) ने कोरोना संकट (Corona Crisis) में गरीबों की जरूरत को महसूस करते हुए 8 करोड़ ऐसे प्रवासी श्रमिकों (Migrant Labourers) को दो महीने का अनाज देने की व्यवस्था की है जिनके पास राशन कार्ड नहीं है. दरअसल वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने केंद्र सरकार का आरोप लगाते हुए कहा है कि मोदी सरकार (Modi Government) ने एनएफएसए के लाभार्थियों की सूची में विस्तार नहीं किया है जिसके चलते जनता को अपने हक का राशन नहीं मिल रहा है. राहुल के इसी ट्वीट पर पासवान ने जवाब दिया है.

राम विलास पासवान ने लिखा- "कांग्रेस नेता @RahulGandhi का यह कहना कि मोदी सरकार ने NFSA लाभार्थियों की सूची का विस्तार नहीं किया, तथ्यों से परे है। UPA सरकार ने ही NFSA कानून को 2013 में पास करते समय हर 10 वर्ष में लाभार्थियों की सूची के विस्तार का प्रावधान किया जो कि 2021की जनगणना के बाद प्रस्तावित है।"
पासवान ने आगे लिखा- "जबकि इस कोरोना संकट में हमारी सरकार ने गरीबों की जरूरत को महसूस करते हुए #आत्मनिर्भर_भारत_पैकेज के तहत 8 करोड़ वैसे प्रवासी श्रमिकों एवं जरूरतमंदों के लिए दो महीने मुफ्त अनाज की व्यवस्था की है जिनके पास कोई राशनकार्ड नहीं है।"राहुल गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि- "मोदी सरकार को NFSA के लाभार्थीयों की लिस्ट का विस्तार करना था. लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया. जनता को अपने हक़ का राशन नहीं मिला और इस समस्या ने त्रासदी का रूप ले लिया."

राहुल गांधी ने इस ट्वीट के साथ जो लेख शेयर किया है उसका शीर्षक है कि- "फूड एक्ट की लिस्ट अपडेट करने में सरकार फेल, लाखों प्रवासियों को नहीं मिल रहा राशन."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज