लाइव टीवी

आरक्षण के मुद्दे पर राहुल गांधी ने खड़े किए सवाल, कहा- ये वंचित तबकों के अधिकार छीनने की महासाजिश

News18Hindi
Updated: February 10, 2020, 9:01 PM IST
आरक्षण के मुद्दे पर राहुल गांधी ने खड़े किए सवाल, कहा- ये वंचित तबकों के अधिकार छीनने की महासाजिश
राहुल गांधी ने कहा जो आज की सरकार है, वह रिजर्वेशन के खिलाफ है और किसी ना किसी तरह हिंदुस्तान से आरक्षण को हटाना चाहती है.

कांग्रेस पार्टी (Congress Party) के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal) ने कहा कि संसद को गुमराह करने को लेकर कांग्रेस गहलोत के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2020, 9:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) ने नियुक्ति एवं पदोन्नति में आरक्षण के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के एक फैसले पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत (Thavar Chand Gehlot) के वक्तव्य को लेकर सोमवार को आरोप लगाया कि सरकार ने इस विषय पर संसद को गुमराह किया है.

वहीं कांग्रेस के नेता और सांसद राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) ने भी इसे लेकर सवाल खड़े किए. राहुल ने ट्वीट कर कहा- "BJP सरकार आरक्षण के संवैधानिक अधिकार होने के खिलाफ SC में बयान दे रही है. महान संघर्षों और कुर्बानियों से ये अधिकार हासिल किए गए थे जिससे हिंदुस्तान एक ज्यादा बेहतर राष्ट्र बन सके. आज एक-एक करके वंचित तबकों के अधिकार छीनने की महासाजिश हो रही है. इससे बड़ा देशद्रोह क्या है?"



यह आरक्षण को खत्म करने का तरीकाराहुल गांधी ने इससे पहले न्यूज़18 से खास बातचीत में कहा था कि जो आज की सरकार है, वह रिजर्वेशन के खिलाफ है और किसी ना किसी तरह हिंदुस्तान से आरक्षण को हटाना चाहती है. यह चाहते हैं कि एससी और एसटी समुदाय कभी आगे ना बढ़े और कोर्ट ने जो कहा है कि रिजर्वेशन अधिकार ही नहीं है यह बीजेपी की रणनीति है और यह इनका आरक्षण को खत्म करने का तरीका है.

राहुल ने कहा- संविधान पर आक्रमण हो रहा, हर संस्‍था को तोड़ा जा रहा
उन्होंने कहा कि मैं यह कह रहा हूं कि ये आरएसएस और बीजेपी वाले कितना भी सपना देखें आरक्षण को हम कभी खत्म नहीं होने देंगे. मुख्य बात यह है कि संविधान पर आक्रमण हो रहा है हर संस्था को तोड़ा जा रहा है. संसद में हमें बोलने नहीं देते हैं. न्यायपालिका पर दबाव डालते हैं और जो भी हमारे देश और हमारे संविधान की मुख्य स्तंभ है उन्हें तोड़ने की कोशिश हो रही है.

बीजेपी और आरएसएस के डीएनए में आरक्षण हटाना है. हम दलितों और ओबीसी से कहना चाहते हैं कि हम आरक्षण को कभी नहीं मिटने देंगे चाहे मोहन भागवत जितना भी सपना देख लो. बता दें, कांग्रेस पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि संसद को गुमराह करने को लेकर कांग्रेस गहलोत के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाएगी.

ये भी पढ़ें-
प्रमोशन में आरक्षण: राज्‍यसभा में सरकार ने दिया जवाब, कांग्रेस ने किया वॉक आउट

जानें कैसे होगी मंगलवार को दिल्ली चुनावों के वोटों की गिनती, क्या हैं नियम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 7:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर