Hathras Case: राहुल गांधी बोले- हमें लाठी पड़ी कोई फर्क नहीं लेकिन असली धक्का पीड़िता के परिवार को लगा

पंजाब में प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी. तस्वीर- राहुल गांधी
पंजाब में प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी. तस्वीर- राहुल गांधी

पंजाब स्थित पटियाला (Patiala) में कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने हाथरस के कथित गैंगरेप मामले (Hathras case पर भी टिप्पणी की. राहुल ने कहा कि एक बच्ची का रेप हो गया लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक शब्द तक नहीं कहा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 3:06 PM IST
  • Share this:
पटियाला. केंद्र की मोदी सरकार द्वारा हाल ही में पास किए तीन कृषि कानूनों (Farm Bills) के खिलाफ किसानों के आंदोलन को समर्थन देने पंजाब पहुंचे कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने हाथरस मामले (Hathras Case) पर भी टिप्पणी की. एक प्रेस वार्ता में राहुल ने हाथरस के लिए पहली यात्रा के दिन अपने साथ हुए पुलिसिया बर्ताव पर कहा, 'मुझे थोड़ा सा धक्का लग गया तो कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन पूरे देश को धकेला जा रहा है. काम है, देश की जनता का रक्षा करना. ऐसी सरकार के खिलाफ  हम खड़े होंगे तो धक्का लगेगा, लाठी लगेगी खा लेंगे.'

राहुल ने कहा, 'आप सिर्फ मानिए कि किसी ने आपकी बेटी को मार दिया. अब न्याय मांगने गए तो आपको डीएम धमकी दे रहा है. आप क्या फील करेंगे?' कांग्रेस नेता ने कहा कि मैंने पीड़िता के परिवार से कहा, 'मैं आपकी बेटी के लिए आया हूं, देश में लाखों महिलाओं के साथ रोज बदमतीमीजी होती है, हजारों महिलाओं के साथ रेप होता. उनके लिए भी यहां आया हूं.' वायनाड सांसद ने कहा कि बच्ची का रेप होता है पूरा प्रशासन परिवार पर आक्रमण करता है और देश के पीएम एक शब्द नही कहते.





पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'मैं पीड़ित परिवार को बताना चाहता था कि वे अकेले नहीं हैं, हम उनके लिए वहां हैं. पूरे परिवार को उत्तर प्रदेश प्रशासन  ने निशाना बनाया लेकिन हमारे पीएम ने इस मुद्दे पर एक शब्द भी नहीं कहा.'
राहुल-प्रियंका ने की थी मुलाकात
गौरतलब है कि शनिवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शनिवार को हाथरस में दलित समुदाय की उस महिला के परिवार से मुलाकात की थी जिसके साथ कथित सामूहिक बलात्कार किया गया था और करीब एक पखवाड़े के बाद उसकी जान चली गई थी. दलित महिला के परिवार से शनिवार को मुलाकात कर राहुल और प्रियंका ने उन्हें ढांढस बंधाया और कहा कि वे न्याय के लिए लड़ेंगे.

प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद राहुल, प्रियंका और कांग्रेस के कुछ अन्य नेता हाथरस पहुंचे थे. परिवार से मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने कहा कि परिवार के साथ अन्याय हुआ है और इस परिवार की आवाज कोई दबा नहीं सकता. प्रियंका गांधी ने कहा कि पीड़िता का परिवार न्यायिक जांच चाहता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज