कांग्रेस की बैठकों में भी अब शामिल नहीं हो रहे राहुल गांधी, जानिए इसकी वजह

Arun Singh | News18Hindi
Updated: September 13, 2019, 9:21 AM IST
कांग्रेस की बैठकों में भी अब शामिल नहीं हो रहे राहुल गांधी, जानिए इसकी वजह
राहुल गांधी ने तय कर लिया कि वे पार्टी के निर्णयों में हस्तक्षेप नहीं करेंगे.

पिछले 12 सालों में यह पहला मौका है जब कांग्रेस मुख्यालय (Congress Headquarters) 24 अकबर रोड में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के पास बैठने के लिए कोई अपना कमरा तक नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 13, 2019, 9:21 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली के 24 अकबर रोड में स्थित कांग्रेस मुख्यालय (Congress Headquarters) में गुरुवार को हुई बैठक पिछले कुछ सालों में हुई ऐसी पहली बड़ी बैठक थी, जिसमें राहुल गांधी (Rahul Gandhi) शामिल नहीं हुए. दरअसल, अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने पार्टी महासचिवों, राज्य प्रभारियों, विधानमंडल दल के नेताओं की बैठक बुलाई थी. राहुल गांधी इस समय इनमें से किसी भी पद पर नहीं हैं, इसलिए वो बैठक (Meeting) में नहीं आए. राहुल गांधी वर्तमान में वायनाड से सांसद और कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य हैं. सोनिया द्वारा बुलाई गई इस बैठक में महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयंती, ट्रेनिंग और सदस्यता अभियान सहित देश की अर्थव्यवस्था पर चर्चा होनी थी.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) चाहते तो शायद इस बैठक में अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर शामिल हो सकते थे, लेकिन राहुल के करीबी कहते हैं कि, ‘राहुल गांधी ने पूरी ईमानदारी से पद छोड़ा है न कि दिखावे के लिए, उन्होंने खुद के लिए ये तय किया है कि जहां जरूरी होगा वो उसी कार्यक्रम में शिरकत करेंगे’.

इससे पहले राहुल गांधी ने कांग्रेस कार्यसमिति (Congress Working Committee) की उस बैठक में भी कुछ मिनटों के लिए ही हिस्सा लिया था, जिसमें उनका इस्तीफा स्वीकार किया गया था और सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष चुना गया था. राहुल उस बैठक में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के सरकार के फैसले पर चर्चा के लिए शामिल हुए थे.

कांग्रेस मुख्यालय में राहुल को नहीं मिला कोई कमरा

पिछले 12 सालों में यह पहला मौका है जब कांग्रेस मुख्यालय 24 अकबर रोड में राहुल गांधी के पास बैठने के लिए कोई अपना कमरा तक नहीं है. इसकी वजह यह है कि वो संगठन के किसी भी पद पर नहीं हैं. हालांकि इसी मुख्यालय में उनकी बहन प्रियंका को महासचिव और मां सोनिया गांधी को अध्यक्ष पद की वजह से कमरे मौजूद हैं.

राहुल गांधी जब अध्यक्ष पद छोड़ने पर अड़े थे उन्होंने तभी ये तय कर लिया था कि पार्टी के निर्णयों में सार्वजनिक रूप से वो हस्तक्षेप करते नहीं दिखेंगे. राहुल गांधी ने नेहरू-गांधी परिवार के किसी अन्य सदस्य को अगला अध्यक्ष बनाए जाने की मुखालफत भी की थी. हालांकि राहुल गांधी की बात नहीं मानी गई और सोनिया ने ये पद संभालने के लिए हामी भर दी.


Loading...

राहुल के घर अब नहीं जाते कांग्रेसी
राहुल गांधी ये नहीं चाहते कि उनके ऊपर रिमोट से पार्टी चलाने या गैर जरूरी हस्तक्षेप के आरोप लगें. यही वजह है कि अब नेताओं का मेला 10 जनपथ में लगता है न कि राहुल गांधी से मिलने के लिए उनके घर. राहुल के घर पर ही प्रियंका भी लोगों से मिलती हैं.

अब सवाल ये उठने लगे हैं कि क्या कुछ महीनों के लिए पार्टी में पर्दे के पीछे गुमनाम रहकर राहुल गांधी फिर धमाकेदार वापसी की भूमिका बना रहे हैं?

ये भी पढ़ें-

कांग्रेस में RSS की तरह 'प्रेरकों' की नियुक्ति के एजेंडे पर आज बैठक करेंगी सोनिया गांधी

J&K में हमले की बड़ी साजिश नाकाम, 6 एके-47 के साथ 3 आतंकी गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 1:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...