राहुल गांधी ने अपने दोनों हाथ सिंधिया और पायलट को खो दिया: नितिन पटेल

पायलट और सिंधिया कभी राहुल गांधी के सबसे करीबियों में गिने जाते थे (File Photo)
पायलट और सिंधिया कभी राहुल गांधी के सबसे करीबियों में गिने जाते थे (File Photo)

गुजरात (Gujarat) के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल (Nitin Patel) ने कहा, ' ये दो युवा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के दाएं और बाएं हाथ की तरह थे. अब, उन्होंने दोनों हाथों को खो दिया है.'

  • Share this:
अहमदाबाद. गुजरात (Gujarat) के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल (Nitin Patel) ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने दोनों हाथ ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) को खो दिया. साथ ही कहा कि कांग्रेस (Congress) का कमजोर होना भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) के लिए फायदेमंद है. पटेल ने गांधीनगर में संवाददाताओं से कहा, ' हम सभी ने देखा कि मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में क्या हुआ था? अब, यह दोबारा राजस्थान (Rajasthan) में हो रहा है. लगता है कि कांग्रेस नेतृत्व के कामकाज में कुछ खराबी है.'

सिंधिया ने गत मार्च में 22 विधायकों के साथ कांग्रेस छोड़ दी थी, जिसके चलते मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Goverment) गिर गई थी. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Rajasthan's CM Ashok Gehlot) के खिलाफ बगावत करने वाले सचिन पायलट बागी विधायकों के समूह का नेतृत्व कर रहे हैं. पायलट को मंगलवार को उप मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटा दिया गया.

ये भी पढ़ें- सचिन पायलट को हटाने से हुए नुकसान की भरपाई के लिए कांग्रेस ने जातियों को साधा



"कमजोर कांग्रेस भाजपा के लिए अच्छी"
नितिन पटेल ने कहा, ' ये दो युवा नेता (पायलट और सिंधिया) राहुल गांधी के दाएं और बाएं हाथ की तरह थे. अब, उन्होंने दोनों हाथों को खो दिया है.' पटेल ने कहा कि खुद वरिष्ठ कांग्रेस नेता भी पार्टी के भाग्य को लेकर चिंता जाहिर कर चुके हैं. उन्होंने कहा, ' हालांकि, एक कमजोर कांग्रेस हमेशा ही भाजपा के लिए अच्छी है.'

ये भी पढ़ें- सचिन पायलट-अशोक गहलोत विवाद पर क्यों खुलकर बोल रही है कांग्रेस की युवा ब्रिगेड

वहीं, पटेल ने आरक्षण आंदोलन (Reservation Movement) के नेता हार्दिक पटेल (Hardik Patel) को गुजरात कांग्रेस (Gujarat Congress) का कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए जाने को लेकर भी कटाक्ष किया. उप मुख्यमंत्री ने कहा, ' हमें कोई आपत्ति नहीं है यदि कांग्रेस एक कदम आगे जाकर उन्हें अपना राष्ट्रीय अध्यक्ष भी नियुक्त कर दे. यह केवल उन पर निर्भर करता है.'

गौरतलब है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बुधवार को पार्टी की छात्र इकाई एनएसयूआई (NSUI) के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिये बैठक के दौरान कहा कि जिसे पार्टी से जाना है वो जाएगा, लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है. सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने यह टिप्पणी करते हुए किसी नेता का नाम नहीं लिया.

हालांकि, राहुल गांधी की इस टिप्पणी को राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट की बगावत से जोड़कर देखा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज