केरल में मछुआरों के साथ अचानक समुद्र में उतरे राहुल गांधी, नाव पर खाई ब्रेड और फिश करी

समुद्र में मछलियों के लिए जाल फेंकते राहुल गांधी.

समुद्र में मछलियों के लिए जाल फेंकते राहुल गांधी.

Kerala Assembly Elections: कांग्रेस के एक पदाधिकारी ने बताया कि अपने साथ के मछुआरों से यह जानने के बाद कि उनके साथी पानी के अंदर जाल को ठीक से फैला रहे हैं, राहुल भी समुद्र में उतर गए.

  • Share this:
कोल्लम (केरल). कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) मछुआरों के जीवन को करीब से देखने समझने के लिए उनके साथ नौका में सवार होकर यहां समुद्र में गए और जब जाल डाला गया, तो वह भी बाकी मछुआरों के साथ पानी में उतर गए और तट पर पहुंचने से पहले करीब 10 मिनट तैरते रहे. पार्टी सूत्रों ने यह जानकारी दी. राहुल ने जब देखा कि मछली पकड़ने के लिए जाल डालने के बाद कुछ मछुआरे नौका से समुद्र में छलांग लगा रहे हैं, तब वह भी पानी में उतर गए. उस वक्त नौका पर राहुल के एक निजी सुरक्षा अधिकारी भी थे.

उनके साथ मौजूद कांग्रेस के एक पदाधिकारी ने बताया कि अपने साथ के मछुआरों से यह जानने के बाद कि उनके साथी पानी के अंदर जाल को ठीक से फैला रहे हैं, राहुल भी समुद्र में उतर गए. पदाधिकारी ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘वह हमें बताए बगैर ही पानी में उतर गए…हम सभी दंग रह गए, लेकिन वह बहुत सहज दिख रहे थे. वह करीब 10 मिनट तक पानी में रहे. वह एक अच्छे तैराक हैं. ’’ एक सूत्र ने बताया कि राहुल नीली टी-शर्ट और खाकी पतलून पहने पहने ही समुद्र में कूद गए.

ये भी पढ़ें- आखिर क्यों प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीनेशन को राजी हुई सरकार, समझिए कारण

थंगासेरी तट पर लौटने के बाद राहुल ने अपने गीले कपड़े बदले.
मछुआरों संग लिया फिश करी और ब्रेड का स्वाद

नौका पर 23 मछुआरे थे. राहुल के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस समिति महासचिव केसी वेणुगोपाल और टीएन प्रतापन सहित पार्टी के चार नेता थे. मछुआरों ने राहुल को ब्रेड और मछली करी खिलाई, जो उन्होंने नौका पर पकाई थी. सूत्रों ने बताया कि राहुल करीब ढाई घंटे समुद्र में रहे. उन्होंने मछुआरों द्वारा पकाई गई करी का लुत्फ उठाया. उन्होंने अपनी यात्रा के दौरान मछुआरा समुदाय की समस्याओं को भी सुना.

उन्होंने मछुआरों के साथ मिलकर समुद्र में मछली पकड़ने वाला जाल फेंका, लेकिन केवल एक स्क्वीड (मछली पकड़ने के लिए इस्तेमाल होने वाला घोंघा) पकड़ सके. नीली टी-शर्ट और खाकी पैंट पहने कांग्रेस नेता ने तट पर वापसी के दौरान वहां खड़े लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया. उन्होंने मछुआरों से कहा कि उनकी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव का घोषणा पत्र तैयार करने के लिए समाज के विभिन्न तबकों से संपर्क कर रही है और उनकी (मछुआरों) भी मांग को उसमें शामिल किया जाएगा और पूरा किया जाएगा.



ये भी पढ़ें :- सबको फ्री कोरोना वैक्सीन के लिए ममता बनर्जी ने मांगी पीएम से मांगी मदद

नौका के मालिक बीजू लॉरेंस ने कहा कि कांग्रेस नेता ने उनसे उनके परिवार और आमदनी के स्रोत के बारे में पूछा.

राहुल गांधी मछुआरों के जीवन का अनुभव लेने और उनकी समस्याओं को समझने के बाद उन्हें आश्वस्त किया कि कांग्रेस पार्टी उनकी जरूरतों को चुनावी घोषणापत्र में शामिल करेगी

(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज