उपचुनाव के नतीजों पर राहुल बोले- 'BJP के खिलाफ जनता का गुस्सा दिखा'

उपचुनाव में बीजेपी के प्रदर्शन पर तंज कसते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नतीजों से स्पष्ट है कि वोटर्स में बीजेपी के प्रति बहुत नाराजगी है. ऐसे में अब वोटर्स गैर बीजेपी पार्टियों के लिए वोट करेंगे.

News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 5:45 PM IST
उपचुनाव के नतीजों पर राहुल बोले- 'BJP के खिलाफ जनता का गुस्सा दिखा'
उपचुनाव के नतीजों को लेकर राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधा है.
News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 5:45 PM IST
उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीट और बिहार की एक लोकसभा, दो विधानसभा सीटों पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के खराब प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधा है. उपचुनाव में बीजेपी के प्रदर्शन पर तंज कसते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नतीजों से स्पष्ट है कि वोटर्स में बीजेपी के प्रति बहुत नाराजगी है. ऐसे में अब वोटर्स गैर बीजेपी पार्टियों के लिए वोट करेंगे.

उत्तर प्रदेश की गोरखपुर, फूलपुर लोकसभा सीट और बिहार की अररिया लोकसभा सीट, जहानाबाद-भभुआ विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजे सामने हैं. बिहार की जहानाबाद विधानसभा सीट आरजेडी ने जीत ली है, जबकि भभुआ सीट पर बीजेपी को जीत हासिल हुई है.

यूपी की फूलपुर लोकसभा सीट सपा-बसपा उम्मीदवार ने जीत ली है और गोरखपुर सीट पर बढ़त बनाए हुए है. बिहार की अररिया सीट पर भी आरजेडी का 'लालटेन' जल गया है. तीनों लोकसभा सीटों पर बीजेपी का बहुत खराब प्रदर्शन रहा.


बीजेपी के प्रदर्शन को लेकर राहुल गांधी के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया गया- "आज के उपचुनावों में जीतने वाले उम्मीदवारों को बधाई. नतीजों से स्पष्ट है कि मतदाताओं में भाजपा के प्रति बहुत क्रोध है और वो उस गैर भाजपाई उम्मीदवार के लिए वोट करेंगे, जिसके जीतने की संभावना सबसे ज़्यादा हो. कांग्रेस यूपी में नवनिर्माण के लिए तत्पर है, ये रातों रात नहीं होगा."




उधर, तृणमूल कांग्रेस की ममता बनर्जी ने भी इस जीत पर ट्वीट करके कहा है कि यह बीजेपी की हार की शुरुआत है.



बता दें कि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र देश में बदलते समीकरणों के बीच विपक्ष बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने की कोशिश में जुटी है. इसी के तहत लोकसभा में विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस ने मंगलवार को 'डिनर डिप्लोमेसी' का सहारा लिया और तमाम दलों के मुखियाओं को रात के खाने के लिए बुलाया. सोनिया की इस डिनर पार्टी में 20 राजनीतिक दलों के नेता शामिल हुए.

डिनर पार्टी में एनसीपी के शरद पवार, तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय, सपा के रामगोपाल यादव, बसपा के सतीशचंद्र मिश्र, आरजेडी से मीसा भारती और तेजस्वी यादव, सीपीएम से मोहम्मद सलीम, सीपीआई से डी राजा, द्रमुक से कनिमोझी और शरद यादव आदि ने हिस्सा लिया. कांग्रेस की ओर से पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, गुलाम नबी आजाद, अहमद पटेल, ए के एंटनी आदि ने भाग लिया.


डिनर के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया को बताया कि यह प्रीति और मैत्री वाला रात्रि भोज था. कांग्रेस का मानना है कि जहां सरकार दीवार खड़ी करेगी, वहीं हम मित्रता, सौहार्द्र एवं मिलकर साथ चलने का रास्ता तैयार करेंगे. उन्होंने कहा कि यह रात्रिभोज राजनीति के लिए नहीं था. पर स्वाभाविक है कि जहां सरकार संसद चलाने में इच्छुक नहीं है तो वे राजनीतिक नेता, जो अपने क्षेत्रों के लोगों की समस्याओं को लेकर जागरूक और चिंतित हैं, जब मिलेंगे तो प्रदेश और देश की राजनीति पर चर्चा अवश्य होगी.

ये भी पढ़ें:  लोकसभा के उपचुनावों में क्यों फेल हो जाती है BJP?

योगी के गढ़ में पहले 'मुर्दों' से डलवाया वोट, अब लगाई मतगणना में ड्यूटी!
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Nation News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर