कश्मीर में अकेले जाने के लिए तैयार थे राहुल गांधी, शेयर किया एयरपोर्ट का वीडियो

News18Hindi
Updated: August 26, 2019, 12:06 AM IST
कश्मीर में अकेले जाने के लिए तैयार थे राहुल गांधी, शेयर किया एयरपोर्ट का वीडियो
कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) ने शनिवार को विपक्षी नेताओं को श्रीनगर में प्रवेश करने से रोकने के लिए सरकार के कदम की निंदा की.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) ने शनिवार को विपक्षी नेताओं को श्रीनगर में प्रवेश करने से रोकने के लिए सरकार के कदम की निंदा की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2019, 12:06 AM IST
  • Share this:
कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) ने शनिवार को विपक्षी नेताओं को श्रीनगर में प्रवेश करने से रोकने के लिए सरकार के कदम की निंदा की. राहुल गांधी ने कहा कि प्रतिनिधिमंडल और प्रेस को जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के लोगों के साथ हो रही ज्यादतियों का परिचय मिला है. राहुल ने कहा कि इससे पता चलता है कि घाटी के लोग किस तरह सख्त प्रशासन और क्रूर बल के साये में जीने को मजबूर हैं.

अनुच्छेद 370 (Article 370) के प्रावधानों को रद्द करने के बाद कश्मीर घाटी की स्थिति का जायजा लेने के लिए राहुल गांधी सहित विपक्षी नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल शनिवार को दौरे के लिए गया था. लेकिन राज्य प्रशासन ने इस प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर हवाई अड्डे (Srinagar Airport) से बाहर जाने की अनुमति नहीं दी जिस कारण से उन्हें वापस नई दिल्ली लौटना पड़ा.

राहुल ने किया ये ट्वीट
शनिवार को हुए इस घटनाक्रम का कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने वीडियो पोस्ट किया है. इस वीडियो में एयरपोर्ट पर प्रतिनिधिमंडल को रोके जाने के बाद राहुल गांधी कह रहे हैं कि- सबसे पहली बात सरकार ने मुझे यहां बुलाया है. राज्यपाल ने कहा है कि मैं यहां आ सकता हूं. तो अब मैं आया हूं फिर आप कह रहे हैं कि आप नहीं आ सकते. सरकार कह रही है कि यहां सब ठीक है, सब नॉर्मल है. तो अगर सबकुछ ठीक है तो हमें यहां से क्यों भेजा जा रहा है. राहुल ने कहा कि जिस भी इलाके में शांति हो हम वहां जाने को तैयार हैं. अगर धारा 144 लगी हुई है तो मैं अकेले जाने के लिए तैयार हूं, हम सभी एक-एक करके जाएंगे, एक ग्रुप के तौर पर नहीं जाएंगे.


Loading...



इस वीडियो में राहुल गांधी आगे मीडिया से बात करते दिख रहे हैं. यही नहीं राहुल गांधी ने आरोप लगाया है कि प्रतिनिधिमंडल के साथ पहुंचे पत्रकारों के साथ बदसलूकी की गई और उन्हें पीटा गया. राहुल ने ये भी कहा कि इससे साफ है कि जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य नहीं हैं.

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा जम्मू-कश्मीर के लोगों की आजादी और नागरिक स्वतंत्रता पर रोक लगाए 20 दिन हो चुके हैं. उन्होंने कहा, विपक्ष के नेताओं और पत्रकारों को जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ हो रहे सख्त व्यवहार के बारे में तब पता चला जब हमने कल श्रीनगर का दौरा करने की कोशिश की.
इस प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी के अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, भाकपा महासचिव डी राजा, सपा नेता रामगोपाल यादव, लोकतांत्रिक जनता दल के शरद यादव, राष्ट्रीय जनता दल के मनोज झा शामिल थे.

ये भी पढ़ें-
राहुल को लेकर लौट रही फ्लाइट को नहीं मिली लैंडिंग की जगह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 25, 2019, 8:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...