‘बचाओ, बचाओ’ टिप्पणी पर राहुल गांधी का पलटवार- ये भारत के लोगों की गुहार है

राहुल गांधी ने कहा कि यह मदद की गुहार उन लोगों की है जो आपके ‘अत्याचार और अक्षमता’ से मुक्त होना चाहते हैं.

भाषा
Updated: January 21, 2019, 8:31 AM IST
भाषा
Updated: January 21, 2019, 8:31 AM IST
विपक्ष की रैली के संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘बचाओ, बचाओ’ टिप्पणी को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को मोदी पर निशाना साधा और कहा कि यह मदद की गुहार उन लोगों की है जो आपके ‘अत्याचार और अक्षमता’ से मुक्त होना चाहते हैं.

प्रधानमंत्री ने एक दिन पहले ही कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस द्वारा आयोजित रैली पर तंज कसते हुए कहा था कि पश्चिम बंगाल में भाजपा का सिर्फ एक विधायक है लेकिन वे हमसे बहुत डरे हुए हैं क्योंकि हम सच्चाई के मार्ग पर चलते हैं. इसलिए उन्होंने पूरे देश से पार्टियों को एकत्रित किया और बचाओ, बचाओ, बचाओ चिल्ला रहे हैं.

राहुल ने एक ट्वीट में कहा, 'महामहिम, मदद के लिए गुहार लाखों बेरोजगार युवाओं, संकटग्रस्त किसानों, वंचित दलितों और आदिवासियों, सताए गए अल्पसंख्यकों, बर्बाद हो गए छोटे व्यापारियों की है, वे आपके अत्याचार और अक्षमता से मुक्त होने की गुहार लगा रहे है. वे 100 दिनों में मुक्त हो जाएंगे.’



कोलकाता रैली के दौरान नजर आयी विपक्षी एकता से बेपरवाह प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को इसे भ्रष्टाचार, नकारात्मकता और अस्थिरता का गठबंधन करार देकर खारिज कर दिया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इन दलों के पास धनशक्ति है जबकि भाजपा के पास जनशक्ति है. वह वीडियो काफ्रेंसिंग के माध्यम से महाराष्ट्र के कोल्हापुर, हातकणंगले, माढा और सतारा तथा दक्षिण गोवा लोकसभा क्षेत्रों के मतदान केंद्र स्तर के भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे.

प्रधानमंत्री की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को 'ठगबंधन' बताया और कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में लोग सत्तारूढ़ गठबंधन को खारिज कर देंगे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...