राहुल गांधी की सरकार को सलाह- आर्थिक संकट से निपटने के लिए मनरेगा को मजबूती दी जाए

राहुल गांधी ने ग्रामीण इलाकों में मनरेगा से लोगों को मदद मिलने से जुड़ी खबरों का हवाला देते हुए कहा कि इस समय जनहित सबकी जिम्मेदारी है.(पीटीआई फाइल फोटो)

NREGA in Coronavirus: गुजरात में कुछ दिनों पहले एक रिपोर्ट पेश की गई थी. इस रिपोर्ट में मनरेगा को प्रवासी मजदूरों (Migrant Labour) के लिए 'संकटमोचक' बताया गया था. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोविड प्रोटोकॉल के साथ मनरेगा का काम कराए जाने की मांग की थी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी में लगाए गए लॉकडाउन से पैदा हुई आर्थिक तंगी से निपटने के लिए महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) को मजबूती दी जानी चाहिए. उन्होंने ग्रामीण इलाकों में मनरेगा से लोगों को मदद मिलने से जुड़ी खबरों का हवाला देते हुए कहा कि इस समय जनहित सबकी जिम्मेदारी है.

    कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, ‘देश के कमज़ोर वर्ग को अबकी बार भी मनरेगा से राहत मिल रही है. लॉकडाउन से पैदा हुई आर्थिक तंगी से निबटने के लिए इस योजना को और मज़बूत करना ज़रूरी है. सरकार किसी की भी हो, जनता भारत की है और जनहित हमारी ज़िम्मेदारी है.’ कांग्रेस ने कुछ महीने पहले भी सरकार से आग्रह किया था कि मनरेगा का बजट बढ़ाया जाए ताकि रोजगार छिन जाने के कारण शहरों से गांवों का रुख करने वाले ज्यादा से ज्यादा लोगों को जीविका का साधन मिल सके.

    यह भी पढ़ें: गुजरात सरकार ने की मनरेगा की तारीफ, प्रवासी मजदूरों का 'संकटमोचक' बताया

    गुजरात सरकार ने की तारीफ
    गुजरात में कुछ दिनों पहले एक रिपोर्ट पेश की गई थी. इस रिपोर्ट में मनरेगा को प्रवासी मजदूरों के लिए 'संकटमोचक' बताया गया था. साथ ही यह भी कहा गया था कि ग्रमीण भारत में कोरोना वायरस के प्रभावों से उबरने के लिए इसे समाधान के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. राज्य सरकार को इसके मनरेगा की दोबारा रणनीति तैयार करनी चाहिए.

    बीती मई में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे थे. भाषा के अनुसार, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोविड प्रोटोकॉल के साथ मनरेगा का काम कराए जाने की मांग की थी. उन्होंने कहा था कि कोरोना संकट के कारण लोगों की आजीविका पर विपरीत असर पड़ा है और ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड प्रोटोकॉल के साथ मनरेगा के माध्यम से लोगों को रोजगार से जोड़कर उन्हें राहत दी जाए. कर्नाटक में भी बीएस येडियुरप्पा सरकार ने लॉकडाउन के दौरान पाबंदियों के साथ मनरेगा का काम करने की छूट दे दी थी.

    (भाषा इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.