राहुल गांधी बोले- वायनाड के बाढ़ पीड़ितों को जल्द मिले मुआवजा

भाषा
Updated: August 29, 2019, 4:32 PM IST
राहुल गांधी बोले- वायनाड के बाढ़ पीड़ितों को जल्द मिले मुआवजा
राहुल गांधी (Rahul Gandhi )ने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों को भरोसा दिलाया कि वह उनकी समस्याओं को संसद (Parliament) में उठाएंगे.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों को भरोसा दिलाया कि वह उनकी समस्याओं को संसद (Parliament) में उठाएंगे.

  • Share this:
कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी  (Rahul Gandhi) ने अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड (Wayanad) के बाढ़ पीड़ितों (Flood) के लिए शीघ्र मुआवजे और उनका शीघ्र पुनर्वास किये जाने की गुरुवार को मांग की.

वायनाड के अपने दौरे के तीसरे दिन यहां सेंट क्लारेट पब्लिक स्कूल में स्थानीय लोगों से बात करते हुए राहुल ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (Prime Minister Narendra Modi and Chief Minister Pinarayi Vijayan) से मुआवजा देने और पुनर्वास कार्य शीघ्रता से एवं तेज गति से करने की मांग की है. राहुल ने कहा कि उन्हें (राहुल को) आश्वस्त कराया गया है कि जरूरी कार्य किए जाएंगे.

राहुल गांधी ने कहा कि संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा (यूडीएफ) (United Democratic Front (UDF)) कार्यकर्ताओं को केरल सरकार (Kerala) पर दबाव डालना चाहिए, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि मुआवजा और पुनर्वास शीघ्रता से और तेज गति से हो. कांग्रेस सांसद ने कहा कि वह विनाशकारी बाढ़ से प्रभावित वायनाड के लोगों, खासतौर पर बच्चों के मनोबल को सलाम करते हैं.

राहुल ने बच्ची से पूछा सवाल

उन्होंने कहा, 'कल, मैं एक बच्ची से मिला. वह अपने क्षतिग्रस्त मकान के आगे खड़ी थी लेकिन फिर भी उसके चेहरे पर मुस्कान थी. मैंने उससे पूछा कि क्या बाढ़ के दौरान उसे डर लगा, इस पर उसका जवाब था--नहीं. ' कांग्रेस नेता ने कहा, 'मैं केरल से प्यार करता हूं , लेकिन जब लोग ‘ईश्वर का देश’ कहते हैं तो उनका मतलब वायनाड से होता है.'.

राहुल ने दिलाया भरोसा
उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों को भरोसा दिलाया कि वह उनकी समस्याओं को संसद में उठाएंगे. उन्होंने कहा कि क्षेत्र में किसानों की समस्याओं को उन्होंने लोकसभा में उठाया है. कांग्रेस नेता ने पोझीताना पंचायत के आराम मायिल में भी बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात की.
Loading...

भारी बारिश और सिलसिलेवार भूस्खलन से राज्य के उत्तरी जिले--वायनाड और मलप्पुरम (Wayanad and Malappuram)-- बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं. भारी बारिश और भूस्खलन (Heavy rain and landslide) से जुड़ी घटनाओं में 125 लोगों की जानें गई हैं. मलप्पुरम में 60 लोगों, जबकि वायनाड जिले में 14 लोगों की मौतें हुई हैं.

यह भी पढ़ें:  चिदंबरम की याचिका खारिज करने वाले जज को मिला यह जिम्मा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 3:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...