राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, 3 'काले' अध्यादेश किसान-खेतिहर मज़दूर पर घातक प्रहार

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, 3 'काले' अध्यादेश किसान-खेतिहर मज़दूर पर घातक प्रहार
राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है.

राहुल गांधी ने कृषि अध्यादेशों (Agricultural ordinances) के मुद्दे पर सरकार पर हमला बोला है. राहुल गांधी ने केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए अध्यादेशों पर कहा कि यह पीएम मोदी का एक और किसान-विरोधी षड्यंत्र है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 14, 2020, 8:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) संसद के मानसून सत्र (Monsoon session) में कुछ कारणों से शामिल नहीं हो पाए हैं, लेकिन ट्विटर पोस्ट के जरिए लगातार केंद्र की सत्तासीन मोदी सरकार को निशाना बना रहे हैं. राहुल गांधी ने कृषि अध्यादेशों (Agricultural ordinances) के मुद्दे पर सरकार पर हमला बोला है. राहुल गांधी ने केंद्र सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेशों पर कहा कि यह पीएम मोदी का एक और किसान-विरोधी षड्यंत्र है.

सोमवार को राहुल गांधी ने ट्वीट किया, किसान ही हैं जो ख़रीद खुदरा में और अपने उत्पाद की बिक्री थोक के भाव करते हैं. मोदी सरकार के तीन 'काले' अध्यादेश किसान-खेतिहर मज़दूर पर घातक प्रहार हैं ताकि न तो उन्हें MSP व हक़ मिलें और मजबूरी में किसान अपनी ज़मीन पूंजीपतियों को बेच दें. मोदी जी का एक और किसान-विरोधी षड्यंत्र.


दरअसल, संसद का मानसून सत्र शुरू होने से पहले किसानों ने आशंका जताई है कि इन अध्यादेशों से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) प्रणाली को खत्म करने का रास्ता साफ होगा और वे सभी बड़े कॉरपोरेट घरानों की दया के भरोसे रह जाएंगे. किसानों ने केंद्र सरकार से इन अध्यादेशों को वापस लेने की मांग की है.





किसान कर रहे हैं प्रदर्शन
सरकार ने इन तीनों अध्यायदेशों के खिलाफ किसानों ने प्रदर्शन भी शुरू कर दिया है. सोमवार से शुरू हुए संसद के मानसून सत्र में तीन अध्यादेश को लेकर अपना प्रस्ताव देने हरियाणा के करनाल जा रहे आंदोलनकारी किसानों को पुलिस ने दिल्ली के बादली बॉर्डर पर रोक दिया. जिसके चलते किसानों ने बॉर्डर पर ही केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज