फेसबुक विवाद पर हर भारतीय को पूछना चाहिए सवाल : राहुल गांधी

फेसबुक विवाद पर हर भारतीय को पूछना चाहिए सवाल : राहुल गांधी
फेसबुक विवाद को लेकर राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधा है (फाइल फोटो)

इससे पहले राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने लिखा था, "भारत में बीजेपी और आरएसएस का फेसबुक और वॉट्सऐप (Facebook and Whatsapp) पर कब्जा है. वे इसके जरिए फेक न्यूज और नफरत फैलाने का काम करते हैं. वे इसका इस्तेमाल मतदाताओं (voters) को प्रभावित करने के लिए करते हैं."

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2020, 4:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने फेसबुक विवाद (Facebook Controversy) को लेकर मोदी सरकार को निशाना बनाया है. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा कि हम कभी फेक न्यूज (Fake News), हेट स्पीच (Hate Speech) और पक्षपात के चलते मेहनत से मिले लोकतंत्र को नुकसान नहीं पहुंचने देंगे. उन्होंने यह भी लिखा कि वॉल स्ट्रीट जर्नल के खुलासे पर हर भारतीय को सवाल पूछना चाहिए, जिसमें फेक न्यूज और हेट न्यूज फैलाने में फेसबुक (Facbook) के भी शामिल होने की बात कही गई है.

पहले भी पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष (Former Congress President) ने वॉल स्ट्रीट जर्नल के खुलासे को लेकर बीजेपी और आरएसएस (BJP and RSS) को निशाने पर लिया था. उन्होंने लिखा था, "भारत में बीजेपी और आरएसएस का फेसबुक और वॉट्सऐप (Whatsapp) पर कब्जा है. वे इसके जरिए फेक न्यूज और नफरत फैलाने का काम करते हैं. वे इसका इस्तेमाल मतदाताओं (voters) को प्रभावित करने के लिए करते हैं." राहुल गांधी ने अपने हालिया ट्वीट (Tweet) में इस मुद्दे पर कांग्रेस का पक्ष सामने रखने वाले तीन पत्रों को भी शेयर किया है.


फेसबुक विवाद पर बीजेपी को कटघरे में खड़ा करने वाले कांग्रेस नेताओं में महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भी शामिल रहीं. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि बीजेपी के नेता गलत जानकारी और नफरत फैलाने के लिए फेसबुक का इस्तेमाल करते हैं. कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया है कि बीजेपी ने फेसबुक अधिकारियों से सांठगांठ की ताकि सोशल मीडिया पर नियंत्रण रख सके.



यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने जुकरबर्ग को लिखी चिट्टी, कहा- पूरे मामले की हो हाई लेवल जांच

कांग्रेस महासचिव ने इससे जुड़ी एक रिपोर्ट को भी साझा किया है, जिसमें बीजेपी नेता के खिलाफ एक्शन न लेने की बात कही गई है. उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा, भारत के ज्यादातर मीडिया चैनलों के बाद अब सोशल मीडिया की बारी है. बीजेपी नफरत और दुष्प्रचार फैलाने के लिए हर हथकंडे का इस्तेमाल कर रही थी और अब भी कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज