Home /News /nation /

राहुल गांधी बोले- कांग्रेस की सरकार आई तो अर्धसैनिक बलों को शहीद का दर्जा मिलेगा

राहुल गांधी बोले- कांग्रेस की सरकार आई तो अर्धसैनिक बलों को शहीद का दर्जा मिलेगा

फाइल फोटो

फाइल फोटो

नोटबंदी का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, 'नरेन्द्र मोदी जी ने नोटबंदी करके आपकी जेब से पैसा निकालकर चोरों की जेब में डाला है. हिंदुस्तान के इतिहास में नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला है. एक दिन ये सच्चाई निकलेगी.'

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि 'कांग्रेस की सरकार आयेगी तो उन्हें शहीद का दर्जा मिलेगा.' राहुल गांधी शनिवार को दिल्ली में विश्वविद्यालय के छात्र-छात्रों से बातचीत कर रहे थे. राहुल ने इस दौरान कहा, 'पिछले 5 साल में सरकार ने 15-20 उद्योगपतियों का साढ़े 3 लाख का बैंक कर्ज माफ किया है, लेकिन जब किसानों ने अपना कर्जा माफ करने के लिए कहा तो सरकार ने मना कर दिया. भारत में संपत्ति का केंद्रीकरण हो रहा है. हम मूल रूप से इसके खिलाफ हैं.'

    राहुल ने कहा, 'सारा काम 15-20 उद्योगपतियों के लिए ही किया जा रहा है. सोच स्पष्ट है कि सरकार शिक्षा पर पैसा नहीं लगाना चाहती.सरकार चाहती है कि शिक्षा पर पैसा छात्र लगायें और निजीकरण के जरिये इससे 15-20 उद्योगपतियों को ही मदद मिले. हमारा मानना है कि सरकार को शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं में मदद करनी चाहिए.' राहुल के मुताबिक, 'आज विश्वविद्यालयों में कुलपति के पद पर एक संगठन की विचारधारा के लोग बैठाये जा रहे हैं. वो चाहते हैं कि हिंदुस्तान की शिक्षा प्रणाली उनका औजार बन जाए.'

    यह भी पढ़ें: 11 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ 12 साल के जैक्सन ने बनाया न्यूक्लियर फ्यूजन रिएक्टर

    राहुल ने कहा कि 'जब मैं कहता हूं कि सरकार को शिक्षा के लिए मदद करना चाहिए, तो इसका मतलब है कि बैंक कर्ज को आसान बनाना, छात्रवृत्ति, अधिक विश्वविद्यालयों को जोड़ना, नामांकन को आगे बढ़ाना. अगर आप इनके आंकड़ों को देखें, तो भाजपा राज में इनमें गिरावट आई है.' उन्होंने कहा कि 'आज अर्धसैनिक बलों को शहीद का दर्जा नहीं मिलता लेकिन, कांग्रेस की सरकार आयेगी तो उन्हें शहीद का दर्जा मिलेगा.'

    यह भी पढ़ें: जब सड़क पर उतरा दलित-आदिवासी रेप पीड़िताओं का मीटू मूवमेंट

    बेरोजगारी के मुद्दे पर राहुल ने कहा कि 'जब आप भारत, अमेरिका और यूरोप के देशों को देखेंगे तो सबसे बड़ी समस्या नौकरियों की हैं. इस समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा, यही कारण है कि गुस्सा बढ़ रहा है और दक्षिणपंथी संगठन उस गुस्से का इस्तेमाल कर रहे हैं.हमारी सरकार मानना ही नहीं चाहती कि नौकरियों का संकट है. इस देश के युवा ही वास्तव में इस देश को प्रगति की ओर ले जाने में सक्षम हैं.'

    यह भी पढ़ें: सियाचिन, कश्मीर और करगिल में देश की सेवा कर चुका यह जवान लड़ रहा है नागरिकता की लड़ाई

    राहुल ने कहा कि 'मैं उत्तर पूर्वी राज्यों में उच्च शिक्षा संस्थानों की संख्या बढ़ाने के लिये पूरी तरह से प्रतिबद्ध हूं. मैं शिक्षा के सख्त ढांचे में विश्वास नहीं करता. हमें अपने छात्रों को सशक्त बनाना चाहिए.' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि 'हिंदुस्तान में प्रधानमंत्री जो कहते हैं उसकी अनुभूति पूरे सिस्टम में जाती है. यदि प्रधानमंत्री नफरत के माहौल की निंदा करें और भाईचारे, प्यार का संदेश दें तो नफरत का माहौल अपने आप ठंडा हो जायेगा.'

    यह भी पढ़ें: Aero India 2019 के पार्किंग एरिया में भीषण आग, 80-100 गाड़ियां हुई खाक

    नोटबंदी का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, 'नरेन्द्र मोदी जी ने नोटबंदी करके आपकी जेब से पैसा निकालकर चोरों की जेब में डाला है. हिंदुस्तान के इतिहास में नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला है. एक दिन ये सच्चाई निकलेगी.'

    यह भी पढ़ें:  13 साल के लड़के ने 10 वर्षीय लड़की को लिखा लव लेटर, घर वालों के झगड़े में 10 घायल

    राहुल ने कहा, 'हिंदुस्तान में सबसे बड़ा भ्रष्टाचार जमीनों में होता है. नरेन्द्र मोदी जी ने पहला काम जमीन अधिग्रहण बिल को रद्द करने का किया क्योंकि, वो जमीनों को हिंदुस्तान के 15-20 उद्योगपतियों को देना चाहते थे.' केंद्र सरकार पर राहुल ने आरोप लगाते हुए कहा कि, 'हमने पारदर्शिता बढ़ाने और भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए आरटीआई को लागू किया था. आज मोदी सरकार में आरटीआई को बर्बाद कर दिया गया है.'

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: BJP, Congress, CRPF, Narendra modi, Pulwama, Pulwama attack, Rahul gandhi, Trending news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर