लाइव टीवी

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर तंज, 'मेक इन इंडिया' अब ‘बाय फ्रॉम चाइना’ हो गया

News18Hindi
Updated: November 4, 2019, 4:02 PM IST
राहुल गांधी का मोदी सरकार पर तंज, 'मेक इन इंडिया' अब ‘बाय फ्रॉम चाइना’ हो गया
राहुल गांधी ने कहा, मेक इन इंडिया अब ‘बाय फ्राम चाइना’ हो गया है

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा, ‘मेक इन इंडिया’ (Make In India) अब ‘बाय फ्राम चाइना’ बन गया है. हर साल हम प्रति भारतीय के लिए 6000 रुपये की वस्तुओं का आयात करते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2019, 4:02 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने क्षेत्रीय समग्र आर्थिक समझौते (RECP) को लेकर सोमवार को मोदी सरकार (Modi Government) पर निशाना साधा. राहुल गांधी कहा कि ‘मेक इन इंडिया’ (Make In India) अब ‘बाय फ्रॉम चाइना’ (चीन से खरीदो) हो गया है.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आरईसीपी (RECP) से जुड़ी एक खबर का हवाला देते हुए यह दावा भी किया कि RECP से भारत में सस्ते सामान की बाढ़ आ जाएगी, जिससे लाखों लोगों की नौकरियां चली जाएंगी और अर्थव्यवस्था को गहरा नुकसान पहुंचेगा.

उन्होंने ट्वीट कर कहा,  ‘मेक इन इंडिया’ अब ‘बाय फ्रॉम चाइना’ बन गया है. हर साल हम प्रति भारतीय के लिए 6000 रुपये की वस्तुओं का आयात करते हैं. 2014 के बाद से आयात में 100 फीसदी का इजाफा हुआ है.’

Loading...



राहुल गांधी ने दावा किया, ‘ आरईसीपी से भारत में सस्ते सामान की बाढ़ आ जाएगी जिससे लाखों नौकरियां चली जाएंगी और अर्थव्यवस्था को गहरा नुकसान होगा.’

सोनिया गांधी ने आरसीईपी को लेकर उठाए थे साल
इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी आरसीईपी को लेकर सवाल उठाए थे. सोनिया ने एशिया-प्रशांत के 16 देशों के साथ प्रस्तावित आरसीईपी समझौते का उल्लेख करते हुए कहा था, ‘सरकार के कई निर्णयों से अर्थव्यवस्था को क्या कम नुकसान नहीं हुआ था कि अब वह आरसीईपी के माध्यम से बड़ा नुकसान पहुंचाने की तैयारी में है. इससे हमारे किसानों, दुकानदारों, लघु एवं मध्यम इकाइयों पर गंभीर दुष्परिणाम होंगे.’

(भाषा इनपुट के साथ)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 3:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...