Assembly Banner 2021

तमिलनाडु का राहुल गांधी ने किया शुक्रियाअदा, बोले-ये चुनाव इतिहास और हितों को बचाने की लड़ाई है

तमिलनाडु के चेन्नई में एक जनसभा को संबोधित करते कांग्रेस सांसद राहुल गांधी. (INCIndia/28 March 2021)

तमिलनाडु के चेन्नई में एक जनसभा को संबोधित करते कांग्रेस सांसद राहुल गांधी. (INCIndia/28 March 2021)

Tamil nadu Assembly Elections: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा, यह चुनाव से कहीं अधिक है. यह तमिल संस्कृति, इतिहास और हितों को बचाने की लड़ाई है. धन्यवाद, आपके प्रोत्साहन और समर्थन के लिए तमिलनाडु.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 8:25 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. तमिलनाडु विधानसभा चुनाव (Tamil nadu Assembly Elections 2021) प्रचार के लिए रण में उतरे कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार केंद्र सरकार पर निशाना साध रहे हैं. चुनावी शोर के बीच राहुल गांधी ने तमिलनाडु की जनता का शुक्रिया अदा किया है.

रविवार को राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'यह चुनाव से कहीं अधिक है. यह तमिल संस्कृति, इतिहास और हितों को बचाने की लड़ाई है. धन्यवाद, आपके प्रोत्साहन और समर्थन के लिए तमिलनाडु.' इससे पहले राहुल गांधी ने अन्नाद्रमुक के शीर्ष नेता और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी पर आरोप लगाया कि भ्रष्टाचार में संलिप्त रहने के चलते वह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आगे झुकने को मजबूर हुए हैं.

चेन्नई में एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'दुर्भाग्य से, उन्होंने (पलानीस्वामी) तमिलनाडु के लोगों का जो पैसा चुराया है, उसके चलते वह अब फंस गये हैं.'



बीजेपी चाहती है हर कोई सिर झुकाए
उन्होंने कहा कि बीजेपी चाहती है कि देश में हर कोई मोदी और शाह के समक्ष सिर झुकाये. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी भाईचारे और समानता के विचार में विश्वास करती है. गांधी ने आरोप लगाया कि, ‘‘यह भारत और तमिलनाडु के विचार पर हमला है और यह आरएसएस और नरेन्द्र मोदी द्वारा परिकल्पित है. वे एक ऐसा तमिलनाडु चाहते हैं जो उनके सामने झुक जाए.’’ उन्होंने कहा कि तमिलनाडु भारत की नींव का हिस्सा है. उन्होंने तमिल सीखने की इच्छा भी व्यक्त की.  मैं तमिल लोगों के साथ एक रिश्ता, बराबरी का रिश्ता चाहता हूं. मैं चाहता हूं कि तमिलनाडु, तमिलनाडु से चले, दिल्ली से नहीं.

एम के स्टालिन होंगे राज्य के मुख्यमंत्री
गांधी ने आरोप लगाया कि पिछले चुनावों में तमिलनाडु के राजनीतिक दलों, अन्नाद्रमुक और द्रमुक के बीच मुकाबला था. इस बार एक तरफ अन्नाद्रमुक, आरएसएस, मोदी, शाह (बीजेपी) है तो वहीं दूसरी ओर तमिल लोग हैं. उन्होंने विश्वास जताया कि द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन राज्य के अगले मुख्यमंत्री होंगे.

ये भी पढ़ें- कोरोना:2021 में पहली बार 300 से अधिक मौतें, नए केस भी 163 दिन में सबसे ज्‍यादा

उन्होंने दोहराया कि लोकतंत्र, संविधान और सभी स्वतंत्र संस्थानों पर हमला हो रहा है. उन्होंने तीन कृषि कानूनों, नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर को लेकर केन्द्र सरकार पर निशाना साधा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज