• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • किसानों के समर्थन में राहुल गांधी बोले- डटा है और निडर है भारत का भाग्य विधाता

किसानों के समर्थन में राहुल गांधी बोले- डटा है और निडर है भारत का भाग्य विधाता

सोमवार को आंदोलनकारी किसानों का समर्थन करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘भारत का भाग्य विधाता’ डटा हुआ है और निडर है. (फाइल फोटो)

सोमवार को आंदोलनकारी किसानों का समर्थन करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘भारत का भाग्य विधाता’ डटा हुआ है और निडर है. (फाइल फोटो)

Farmer Protest: केंद्र के तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के विरोध में रविवार को विभिन्न राज्यों के किसान मुजफ्फरनगर के राजकीय इंटर कॉलेज मैदान में किसान महापंचायत के लिए बड़ी संख्या में जमा हुए.

  • Share this:

    नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gamdhi) ने उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में किसानों की ‘महापंचायत’ के बाद सोमवार को आंदोलनकारी किसानों का समर्थन करते हुए कहा कि ‘भारत का भाग्य विधाता’ डटा हुआ है और निडर है. उन्होंने किसानों की ‘महापंचायत’ में उमड़ी भीड़ की एक तस्वीर साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘डटा है, निडर है, इधर है भारत भाग्य विधाता!’

    कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इसी से संबंधित एक खबर का उल्लेख करते हुए दावा किया, ‘यही है देश कि सच्चाई. केवल, देश बेचने वाले शासकों को नहीं दिख रही.’  केंद्र के तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के विरोध में रविवार को विभिन्न राज्यों के किसान मुजफ्फरनगर के राजकीय इंटर कॉलेज मैदान में किसान महापंचायत के लिए बड़ी संख्या में एकत्र हुए. अगले वर्ष के शुरु में होने वाले, उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव को देखते हुए इस आयोजन को महत्वपूर्ण माना जा रहा है. ‘किसान महापंचायत’ का आयोजन संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से किया गया.

    राहुल गांधी का ट्वीट

    ये भी पढ़ें:-तालिबान के पंजशीर कब्जे के दावे को NRF ने किया खारिज, कहा- हमारे लड़ाके हर कोने में मौजूद

    कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन को नौ महीने से अधिक समय हो गया है. किसान उन कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहे हैं जिनसे उन्हें डर है कि वे कानून न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) व्यवस्था को खत्म कर देंगे, तथा उन्हें बड़े कारोबारी समूहों की दया पर छोड़ देंगे. सरकार इन कानूनों को प्रमुख कृषि सुधार और किसानों के हित में बता रही है. सरकार और किसान संगठनों के बीच 10 दौर से अधिक की बातचीत हुई, हालांकि गतिरोध खत्म नहीं हुआ.

    केंद्र सरकार के तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले नौ माह से आंदोलन कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने रविवार को मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत में 27 सितंबर को ‘भारत बंद’ का ऐलान किया. दूसरी तरफ किसान महापंचायत को लेकर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समेत विभिन्न दलों की अलग-अलग प्रतिक्रिया सामने आई. संयुक्त किसान मोर्चा ने पहले 25 सितंबर को भारत बंद की घोषणा की थी लेकिन रविवार को मुजफ्फरनगर की महापंचायत में कहा गया कि अब ‘भारत बंद’ 27 सितंबर को होगा। किसान मोर्चा ने कहा है कि 27 सितंबर को ‘भारत बंद’ के दौरान देश में सब कुछ बंद रहेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज