राहुल गांधी के साथ तस्वीर लेना चाहता था शख्स, गार्ड्स ने रोका तो कांग्रेस नेता ने खुद खींचकर भेजी सेल्फी

राहुल गांधी ने शख्स के साथ शेयर की सेल्फी
राहुल गांधी ने शख्स के साथ शेयर की सेल्फी

राहुल गांधी के साथ वायरल हो रही इस तस्वीर को फेक बताए जाने के दावों पर इस शख्स का वीडियो शेयर किया जा रहा है जिसमें कि राहुल गांधी की तरफ से भेजी गई सेल्फी और चैट का स्क्रीनशॉट भी शामिल है

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2020, 1:03 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) की एक युवक के साथ तस्वीर वायरल (Photo Viral) हो रही है. इस तस्वीर में राहुल गांधी गाड़ी में बैठे हुए हैं और गाड़ी के बाहर एक समर्थक के तस्वीर में मुस्कुरा रहा है. तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि ये शख्स राहुल गांधी के साथ तस्वीर खिंचवाना चाहता था. लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने इससे रोक दिया. इसके बाद राहुल गांधी ने अपने फोन से सेल्फी ली. इसके बाद उस शख्स का नंबर लेकर उसे तस्वीर वॉट्सऐप की. तस्वीर खिंचाने वाले शख्स का नाम फवास बताया जा रहा है.

फवास की राहुल के साथ ये तस्वीर खूब वायरस हो रही है. कुछ लोग यह भी कह रहे हैं कि ये तस्वीर फेक है. लेकिन इन दावों का खंडन करने के लिए इस शख्स का वीडियो भी सामने आया है जिसमें कि राहुल गांधी की तरफ से भेजी गई सेल्फी और चैट का स्क्रीनशॉट भी शामिल है. बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोविड-19 (Covid-19) हालात का जायजा लेने के लिये 19 अक्टूबर को अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दो दिवसीय दौरे पर हैं. राहुल ने मंगलवार मलाप्पुरम में कोविड-19 की हालात की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक में हिस्सा लिया, जहां पर कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है.


ये भी पढ़ें- भारत से मुकाबले के लिए चीन के बाद अब तुर्की की शरण में पाकिस्तान, मंगा रहा रडार सिस्टम



मलाप्पुरम में पिछले तीन दिन में आए हैं सबसे अधिक केस
मलाप्पुरम में गत तीन दिनों में राज्य में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं. जिले में शुक्रवार, शनिवार और रविवार को क्रमश: 1,025, 1519 और 1399 नये मामले सामने आए हैं.

कोविड-19 से उत्पन्न हालात की समीक्षा के लिए जिला कलेक्ट्रेट में बैठक आयोजित की गई. वायनाड से सांसद राहुल सोमवार को अपने निर्वाचन क्षेत्र के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे. उनका निर्वाचन क्षेत्र मलाप्पुरम, वायनाड और कोझिाकोड जिलों में फैला हुआ है.

ये भी पढ़ें- कोरोना मरीजों का इलाज करने में नाकामयाब है प्लाज्मा थेरेपी, बंद करने पर विचार

समीक्षा बैठक के बाद राहुल गांधी ने नवनिर्मित मकान की चाबी दो बहनों काव्या और कृतिका को दी जिनके माता-पिता का निधन पिछले साल मलाप्पुरम में भूस्खलन की चपेट में आने से हो गया था.



उल्लेखनीय है कि पिछले साल अगस्त में भारी बारिश की वजह से केरल के मलाप्पुरम जिले के कवलप्पारा और वायनाड जिले के पुतुमाला में भूस्खलन की दो बड़ी घटनाएं हुए थीं जिनमें कम से कम 113 लोगों की मौत हो गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज