आज सुबह 9 बजे रघुराम राजन से COVID-19 की समस्या पर बात करेंगे राहुल गांधी

गुरुवार सवेरे 9 बजे रघुराम राजन से कोविड-19 के मुद्दे पर बात करेंगे राहुल गांधी (वीडियो ग्रैब)

गुरुवार सवेरे 9 बजे रघुराम राजन से कोविड-19 के मुद्दे पर बात करेंगे राहुल गांधी (वीडियो ग्रैब)

कांग्रेस प्रवक्ता (Congress Spokesperson) रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने जानकारी दी कि कांग्रेस और इसके अन्य ट्विटर हैंडल पर 30 अप्रैल, 2020 को राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की रघुराम राजन (Raghuram Rajan) के साथ बातचीत देखी जा सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 12:56 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस प्रवक्ता (Congress Spokesperson) रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने बताया है कि जिस तरह COVID-19 की समस्या बढ़ती जा रही है, राहुल गांधी (Rahul Gandhi) इसके लिए रास्ते तलाशने के लिए बातचीत की शुरुआत कर रहे हैं.

कांग्रेस प्रवक्ता (Congress Spokesperson) ने अपने एक ट्वीट में अपील की है, "कृपया कांग्रेस और इसके अन्य ट्विटर हैंडलों (Twitter Handles) पर 30 अप्रैल, 2020 को देखें राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की रघुराम राजन Raghuram Rajan) के साथ बातचीत." इस ट्वीट में सुरजेवाला ने बातचीत का एक ट्रेलर (Trailer) भी ट्वीट किया है.



भारत लॉकडाउन के दौरान अर्थव्यवस्था के लिए ढूंढ सकता है अवसर
ट्रेलर में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) बातचीत की शुरुआत इस प्रश्न से करते हुए देखे जा सकते हैं कि लोगों के दिमाग में इसे लेकर कई सवाल हैं कि इस वायरस के चलते क्या हो रहा है और क्या होने जा रहा है, खासकर हमारी अर्थव्यवस्था के साथ.

जिसके जवाब में रघुराम कहते हैं कि इस हालत में भारत अपने उद्योगों और सप्लाई चेन के लिए अवसर ढूंढ सकता है. खासकर ताकतवर देशों के साथ भारत और बातचीत कर सकता है.

उन्होंने यह भी कहा कि हम हमेशा के लिए लॉकडाउन (Lockdown) लगाए रख सकते हैं लेकिन ऐसे में अर्थव्यवस्था नहीं चलाई जा सकती.



भारत में गरीबों की मदद पर खर्च होंगे 65 हजार करोड़

राहुल-रघुराम राजन ने इस दौरान गरीबों की मदद करने के मुद्दे पर भी बात की. वीडियो में राहुल गांधी पूछते दिखते हैं कि गरीबों (Poors) की मदद करने के लिए कितना पैसा लगेगा? जिसके जवाब रघुराम राजन कहते हैं- 65 हजार करोड़.

रघुराम राजन ने कहा कि हमें देखना होगा कि कैसे हम उस रास्ते पर चल सकते हैं जहां हम अच्छी गुणवत्ता की ज्यादा से ज्यादा रोजगार पैदा कर सकें. हमने पिछले सालों में लगातार अपनी आर्थिक बढ़त की दर में गिरावट देखी है, जबकि हमारे कार्यबल (Workforce)  में इतने ज्यादा युवा लोग हैं.

राहुल गांधी ट्रेलर के अंत में सवाल करते हैं कि आप जानते ही हैं कि भारतीय समाज जैसा है, वह अमेरिकी समाज (American Society) से बिल्कुल अलग है. ऐसे में कौन से सामाजिक बदलाव भारत में जरूरी लगते हैं? इस सवाल का जवाब कल पूरी बातचीत के वीडियो में सवेरे 9 बजे मिलेगा.

यह भी पढ़ें: व्हाइट हाउस ने PM मोदी का ट्विटर हैंडल किया अनफॉलो, राहुल बोले-मैं निराश हूं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज