राहुल गांधी की हरियाणा यात्रा घटायी गयी, अब एक दिन का होगा दौरा

खेती बचाओ यात्रा के दौरान जनसभा को संबोधित करते राहुल गांधी.
खेती बचाओ यात्रा के दौरान जनसभा को संबोधित करते राहुल गांधी.

Rahul Gandhi Rally: कार्यक्रम के हिसाब से गांधी को बुधवार करनाल में एक सभा को संबोधित करना था लेकिन अब कुरुक्षेत्र (Kurukshetra) में ही उनकी ‘खेती बचाओ यात्रा’ का समापन होगा.

  • Share this:
चंडीगढ़. नये कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) की ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) के तहत पूर्व निर्धारित उनकी दो दिवसीय हरियाणा यात्रा में बदलाव किया गया है और अब वह मंगलवार को एक दिन के लिए राज्य का दौरा करेंगे. गांधी ने पिछले ही महीने संसद से पारित और राष्ट्रपति से मंजूरी प्राप्त विवादास्पद कानूनों के खिलाफ रविवार और सोमवार को पंजाब में ट्रैक्टर रैलियां की थीं.

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा (Kumari Sailja) ने सोमवार शाम को ट्वीट किया, ‘‘राहुल गांधी जी की हरियाणा यात्रा दो दिनों के बजाय अब एक दिन के लिए होगी.’’ उन्होंने कहा कि गांधी मंगलवार सुबह दस बजे पंजाब से हरियाणा के पिहोवा (Pihova) में दाखिल होंगे तथा बाद में कुरुक्षेत्र (Kurukshetra) जायेंगे जहां उनकी ‘खेती बचाओ यात्रा’ का समापन होगा.

बुधवार को करनाल में संबोधित करनी थी सभा
प्रदेश कांग्रेस द्वारा पहले बताये गये कार्यक्रम के हिसाब से गांधी को बुधवार करनाल में एक सभा को संबोधित करना था. सोमवार को हरियाणा सरकार ने कहा कि गांधी राज्य में थोड़े से लोगों को ला सकते हैं लेकिन वह पंजाब से भारी भीड़ को अनुमति नहीं देगी क्योंकि इससे वातावरण ‘बिगड़’ सकता है.
ये भी पढे़ं- दुनिया की कुल आबादी का 10 फीसदी हिस्‍सा हो सकता है कोरोना संक्रमित



पंजाब में राहुल का सरकार पर हमला
इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को पंजाब में अपनी एक रैली में आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन कृषि कानूनों से ‘किसानों और मजदूरों को वैसे ही खत्म’ कर रहे हैं जैसे उन्होंने नोटबंदी और जीएसटी से छोटे दुकानदारों को ‘बर्बाद’ कर दिया था. उन्होंने केंद्र पर अपने हमले तेज करते हुए चीन का मुद्दा भी उठाया और दावा किया कि चीन ने "भारत में घुसने और हमारे सैनिकों को मारने की हिम्मत की’’ क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी ने देश को "कमजोर" बना दिया है.

राहुल ने पंजाब के संगरूर में एक सभा को संबोधित करते हुए दावा किया कि पिछले छह वर्षों के दौरान नरेंद्र मोदी नीत केंद्र सरकार की कोई भी नीति गरीबों, किसानों या मजदूरों के कल्याण के लिए नहीं थी. उन्होंने कहा, ‘‘ सभी नीतियां उनके तीन-चार चुनिंदा दोस्तों के लिए बनायी गयी हैं."

ये भी पढ़ें- बिहार: CPI-ML ने जारी की 19 कैंडिडेट की सूची, मौजूदा 3 विधायकों को मिला टिकट

पीडीएस में सुधार पर राहुल गांधी ने दिया जोर
राहुल गांधी ने अनाजों की खरीद और सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) में सुधार की आवश्यकता पर जोर दिया. उन्होंने कहा, ‘‘इस प्रणाली को मजबूत बनाने और अधिक संख्या में मंडियों को स्थापित करने की आवश्यकता है. एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) की गारंटी देने की, किसानों को बुनियादी ढांचा मुहैया कराने, भंडार गृह स्थापित करने की आवश्यकता है.’’

इस मौके पर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, पार्टी के पंजाब प्रभारी हरीश रावत, पंजाब कांग्रेस प्रमुख सुनील जाखड़, मंत्री बलबीर सिद्धू, विजय इंदर सिंगला, राणा गुरमीत सोढ़ी और राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र हुड्डा भी मौजूद थे.



हालांकि, विधायक और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू रैली में मौजूद नहीं थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज