राहुल गांधी बोले- इस सरकार ने क्या बढ़ाया? बेरोज़गारी, महंगाई, गरीबी और बस मित्रों की कमाई

 राहुल गांधी (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-ANI)

राहुल गांधी (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-ANI)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने ट्वीट के साथ एक समाचार पत्र की कतरन भी साझा की है. इसमें दावा किया है कि एक तिहाई लोग मध्यम आय वर्ग से नीचे चले गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2021, 12:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने केंद्र की मोदी सरकार पर महंगाई के मुद्दे पर निशाना साधा है. राहुल ने शनिवार ट्वीट कर दावा किया इस सरकार ने 'बेरोजगारी, महंगाई और गरीबी बढ़ाई' है. वायनाड सांसद ने एक ट्वीट में कहा- 'इस सरकार ने क्या बढ़ाया? बेरोज़गारी, महँगाई, ग़रीबी. और सिर्फ़ मित्रों की कमाई.' विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रचार के लिए असम पहुंचे राहुल ने यह ट्वीट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक रैली से पहले किया.

राहुल ने अपने ट्वीट के साथ एक समाचार पत्र की कतरन भी साझा की है. इसमें दावा किया है कि एक तिहाई लोग मध्यम आय वर्ग से नीचे चले गए. इसके अनुसार कोरोना संक्रमण काल के पहले 9.9. करोड़ लोग मध्य वर्ग आय का हिस्सा थे, जिनकी संख्या घटकर 6.6 करोड़ ही रह गई है. वहीं साल 2011 से साल 2019 के दौरान 5.7 करोड़ लोग निम्न आय वर्ग से निकलकर मध्य आय वर्ग का हिस्सा बने थे. दावा किया गया है कि रोज डेढ़ सौ रुपये या उससे कम कमाने वालों का आंकड़ा 7.5 करोड़ के पार पहुंच गया है.



इससे पहले राहुल गांधी ने ईंधन एवं गैस की बढ़ती कीमत और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों की कथित बिक्री को लेकर रविवार को केंद्र सरकार की आलोचना की थी. राहुल गांधी ने ट्वीट किया था, 'केंद्र सरकार की दोनों हाथों से दिनदहाड़े लूट... नंबर एक, गैस-डीजल-पेट्रोल पर भारी कर की वसूली. नंबर दो, मित्रों को पीएसयू-पीएसबी बेचकर जनता से उसकी हिस्सेदारी, रोजगार एवं सुविधाएं छीनना.'
उन्होंने ट्वीट किया था, 'प्रधानमंत्री का एक ही कायदा, देश फूंककर मित्रों का फायदा.' राहुल गांधी और उनकी पार्टी ईंधन की बढ़ती कीमतों पर सरकार की लगातार आलोचना कर रही है. कांग्रेस ने दावा किया है कि सरकार ने 2014 में सत्ता में आने के बाद से पेट्रोलियम उत्पादों पर कर लगाकर 21 लाख करोड़ रुपये से अधिक की राशि एकत्र की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज