बीजेपी की नई टीम का ऐलान होते ही बगावत, मुकुल रॉय को शामिल करने से नाराज हुए राहुल सिन्हा

नाराजगी जाहिर करते हुए राहुल सिन्हा ने एक वीडियो शेयर किया है.
नाराजगी जाहिर करते हुए राहुल सिन्हा ने एक वीडियो शेयर किया है.

BJP New Team : बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए, राहुल सिन्हा ने व्यंग्यात्मक रूप से इसे "उपहार" कहा. उन्होंने कहा कि अगले 10 से 12 दिनों में वह अपने निष्कासन के बारे में अपना पक्ष रखेंगे. सिन्हा ने कहा, "अगले 10 से 12 दिनों में, मैं खुद को स्पष्ट कर दूंगा ... मैं अपना अगला कदम भी साफ कर दूंगा."

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 11:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बिहार विधानसभा चुनावों से पहले बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (BJP President JP Nadda) ने नई टीम का ऐलान कर दिया है. बीजेपी की नई टीम में की युवा चेहरों को जिम्मेदारी सौंपी गई है, जबकि कई पुराने चेहरों को पद से हटा दिया गया है. सबसे बड़ी जिम्मेदारी पार्टी ने मुकुल रॉय को दी है, उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया है. बीजेपी की नई टीम को उत्तर प्रदेश के भी कई नेताओं को केंद्रीय संगठन में महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं. इनमें सांसद रेखा वर्मा को पार्टी उपाध्यक्ष बनाया गया है. पार्टी में हुए इस बड़े फेर बदल से राहुल सिन्हा (Rahul sinha) नाराज हो गए हैं. पश्चिम बंगाल (West bengal) में एक अहम पहचान रखने वाले राहुल सिन्हा बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव थे, लेकिन आज उनसे ये पद छीन लिया गया है.

पद छीने जाने के बाद राहुल सिन्हा ने नाराजगी जाहिर करते हुए ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. पार्टी के इस कदम पर राहुल सिन्हा कहा, ' योद्धा के रूप में 40 साल बीजेपी की सेवा की और आज टीएमसी नेताओं को शामिल करने के लिए मुझे इस्तीफा देने के लिए कह दिया गया.' देखें VIDEO...


मुझे बीजेपी ने दिया तोहफा
बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए, सिन्हा ने व्यंग्यात्मक रूप से इसे "उपहार" कहा. उन्होंने कहा कि अगले 10 से 12 दिनों में वह अपने निष्कासन के बारे में अपना पक्ष रखेंगे. सिन्हा ने कहा, "अगले 10 से 12 दिनों में, मैं खुद को स्पष्ट कर दूंगा ... मैं अपना अगला कदम भी साफ कर दूंगा."



क्यों मुकुल रॉय पर ही नाराज हुए राहुल सिन्हा
दरअसल, अभी कुछ वक्त पहले ही मुकुल रॉय, तृणमूल कांग्रेस को छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए हैं. बीजेपी में शामिल होते ही मुकुल ने यह स्पष्ट कर दिया था कि वो सिर्फ नाम नहीं बल्कि पार्टी या फिर सरकार में वजनदार पद चाहते हैं. हालांकि कुछ वक्त ऐसा लगा था कि पार्टी मुकुल को कोई बड़ा पद नहीं देगी, लेकिन नई टीम में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष का पद मिलने के बाद ऐसा कहा जा रहा है कि राहुल सिन्हा साइड लाइन किए जा सकते हैं.

2021 विधानसभा चुनावों पर बीजेपी की नजर
बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में गहरी पकड़ बना ली है और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के खिलाफ कांग्रेस और वाम मोर्चे को पीछे छोड़ते हुए मुख्य विपक्ष के रूप में उभरी है. बीजेपी की नजर 2021 के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों पर है. मुकुल रॉय को पद देना चुनावी रणनीति कहा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज