• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • स्वास्थ्य मंत्री बदलने को लेकर राहुल का तंज- यानी अब टीकों की कमी नहीं होगी

स्वास्थ्य मंत्री बदलने को लेकर राहुल का तंज- यानी अब टीकों की कमी नहीं होगी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (फाइल फोटो- news18)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (फाइल फोटो- news18)

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के पद से डॉ. हर्षवर्धन को हटाए जाने और मनसुख मंडाविया को यह जिम्मेदारी सौंपे जाने को लेकर बृहस्पतिवार को कटाक्ष करते हुए कहा कि इसका मतलब है कि अब देश में टीकों की कमी नहीं होगी. उन्होंने ‘चेंज’ हैशटैग से ट्वीट किया, ‘‘इसका मतलब है कि अब टीकों की और कमी नहीं होगी.’’ राहुल गांधी पहले भी टीकाकरण अभियान और वैक्‍सीन उपलब्‍ध न होने पर सरकार से अपनी नाराजगी दिखा चुके हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के पद से डॉ. हर्षवर्धन को हटाए जाने और मनसुख मंडाविया को यह जिम्मेदारी सौंपे जाने को लेकर बृहस्पतिवार को कटाक्ष करते हुए कहा कि इसका मतलब है कि अब देश में टीकों की कमी नहीं होगी. उन्होंने ‘चेंज’ हैशटैग से ट्वीट किया, ‘‘इसका मतलब है कि अब टीकों की और कमी नहीं होगी.’’ राहुल गांधी पहले भी टीकाकरण अभियान और वैक्‍सीन उपलब्‍ध न होने पर सरकार से अपनी नाराजगी दिखा चुके हैं.

    भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ‘गैरजिम्मेदार’ हैं और बिना किसी वजह के आलोचना करते हैं. उन्‍होंने कहा कि आलोचना करना बहुत आसान है. वैसे काम करने में संबंध खराब हो जाते हैं क्‍योंं हो? पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कहा कि नए स्वास्थ्य मंत्री का पहला काम देश में टीकों की उचित और निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करना होना चाहिए.

    ये भी पढ़ें : इन देशों के पास है दुनिया का सबसे फिसड्डी पासपोर्ट, पाकिस्तान भी लिस्ट में

    ये भी पढ़ें : कोरोना वायरस के इलाज और भविष्य की महामारियों से लड़ने के लिए दवा के नए लक्ष्य की तलाश पूरी      

    उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘नए स्वास्थ्य मंत्री का पहला काम यह सुनिश्चित करना होना चाहिए कि टीकों की उचित और निर्बाध आपूर्ति हो.’’ नए स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंडाविया साल 2012 और साल 2018 में राज्‍य सभा के लिए चुने गए थे. वो इससे पहले बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग राज्‍य मंत्री और रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री रह चुके हैं. वो 2016 में राज्‍य मंत्री के तौर पर केंद्रीय मंत्रिपरिषद में शामिल हुए थे.

    वैक्‍सीन को लेकर भी राहुल कर चुके हैं ट्वीट
    इसी जुलाई में कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार पर तंज कसा था कि जुलाई आ गया.. वैक्सीन नहीं आई. राहुल गांधी पिछले कई महीनों से कोरोना वैक्‍सीन पर केंद्र सरकार को घेरते आ रहे हैं. उन्‍होंने सरकार से अपील की है कि देश के हर नागरिक को जल्‍द से जल्‍द कोरोना वैक्‍सीन लगाई जाए, जिससे आने वाले कोरोना संकट से लोगों को बचाया जा सके.

    राहुल गांधी के इस ट्वीट के बाद तत्‍कालीन केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने कांग्रेस नेता से वैक्‍सीन पर ओछी राजनीति न करने की अपील की थी. तत्‍कालीन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने जवाब देते हुए कहा, 'कल ही, मैंने जुलाई महीने में वैक्‍सीन की उपलब्धता के बारे में जानकारी दी है. राहुल गांधी जी की समस्‍या क्‍या है? क्‍या वह पढ़ते नहीं हैं? क्‍या वह समझते नहीं हैं? अहंकार और अज्ञानता के वायरस के लिए कोई वैक्‍सीन नहीं है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज