रेल भवन में एक और व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव, अब तक 6 कर्मी हुए संक्रमित

रेल भवन में एक और व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव, अब तक 6 कर्मी हुए संक्रमित
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना लक्षणों की सूची में स्‍वाद और सुगंध को भी जोड़ दिया है.

रेल मंत्रालय (Railway Ministry) की ओर से बताया गया है कि जो कर्मी कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमित पाया गया है वह आखिरी बार 22 मई को दफ्तर आया था. इस दौरान वह जिन भी 29 अधिकारियों/कर्मचारियों के संपर्क में आए थे उन सभी को क्वारंटाइन के लिए भेज दिया गया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. रेल भवन (Rail Bhawan) में एक और रेल कर्मी कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाया गया है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग की प्रोडक्शन यूनिट के डायरेक्टर की कोविड-19 टेस्ट (Covid-19 Test) रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इस कर्मी के संक्रमित पाये जाने के बाद रेल भवन के दूसरे तल को सैनिटाइज़ करने के लिए सील कर दिया गया है. इस संदर्भ में 29 अधिकारी और कर्मचारियों को होम क्वारंटाइन के लिए भेज दिया गया है. रेल मंत्रालय की ओर से बताया गया है कि जो कर्मी कोरोना से संक्रमित पाया गया है वह आखिरी बार 22 मई को दफ्तर आया था. इस दौरान वह जिन भी अधिकारियों के संपर्क में आए थे उन सभी को क्वारंटाइन के लिए भेज दिया गया है. ये सभी अधिकारी 22 मई के हिसाब से 14 दिन यानी कि 5 जून तक क्वारंटाइन पर रहेंगे और यदि इस दौरान उनमें कोई लक्षण नहीं दिखते तो वह 6 जून से दफ्तर आ सकते हैं.

चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी पाया गया था संक्रमित
बता दें रेल भवन में करीब तीन हफ्ते में यह छठा मामला है. इससे पहले 25 मई को एक मामला सामने आया था. जिसमें कि 19 मई तक कार्यालय आया चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था. रेल भवन में उसके संपर्क में आए नौ लोगों को घर में पृथक-वास में भेज दिया गया था. इस संबंध में एक अधिकारी ने कहा कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी का काम फाइलों को एक अधिकारी से दूसरे अधिकारी के पास ले जाने का होता है और इस तरह वह पूरे दिन अनेक लोगों के संपर्क में आता है. ये फाइल रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और यहां तक कि रेल मंत्री के पास भी जा सकती हैं. इस तरह संक्रमण फैलता है.

वरिष्ठ अधिकारी मिली थीं संक्रमित



इससे पूर्व रेलवे की एक वरिष्ठ अधिकारी 24 मई को कोरोना वायरस से संक्रमित मिली थीं और यह रेलवे मुख्यालय में एक सप्ताह से कम समय में चौथा मामला था. संबंधित वरिष्ठ अधिकारी पिछली बार 20 मई को काम पर आई थीं. उनके साथ करीब से काम करनेवाले कम से कम 14 अधिकारियों को घर में पृथक-वास में भेज दिया गया है.



22 मई को आया था एक केस
अधिकारियों ने बताया कि नए मामले से पहले 22 मई को रेल भवन में एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी कोरोना वायरस से संक्रमित मिली थीं. यह अधिकारी रेलवे रक्षा बल (आरपीएफ) सेवा के कैडर पुनर्गठन पर काम कर रही थीं. वह पिछली बार 13 मई को काम पर आई थीं और उसी दिन एक कनिष्ठ आरपीएफ अधिकारी के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी. उन्होंने कहा कि इस रेलवे अधिकारी का निवास दिल्ली स्थित कॉमनवेल्थ गेम्स विलेज अपार्टमेंट में है जहां रेलवे के कई वरिष्ठ अधिकारी रहते हैं.

अधिकारियों ने बताया कि उनके साथ करीब से काम करनेवाले संयुक्त सचिव स्तर के एक अधिकारी को 14 दिन के लिए गृह-पृथक-वास में भेजा गया है, जबकि कुछ कनिष्ठ अधिकारियों से खुद को पृथक करने और चार जून को कार्यालय आने को कहा गया है. सूत्रों ने बताया कि अधिकारी मधुमेह से पीड़ित थीं और उन्होंने कोरोना वायरस से बचाव के लिए जरूरी सभी सावधानियां बरती थीं. हालांकि, उन्हें हल्का बुखार है और घर में निगरानी में हैं.

13 मई को सामने आया था पहला केस
रेल भवन में चौथी मंजिल स्थित आरपीएफ कार्यालय के कनिष्ठ अधिकारी इमारत में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने वाले पहले व्यक्ति हैं. उनकी जांच रिपोर्ट 13 मई को आई थी. इसके बाद एक और मामला सामने आया जिसमें इमारत के आसपास से बंदरों को भगाने वाला लंगूर संचालक 14 मई को संक्रमित पाया गया.

इन मामलों के मद्देनजर रेलवे ने 14 और 15 मई को संक्रमणमुक्ति अभियान के लिए इमारत को बंद कर दिया था.

(भाषा के इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें-
देश में तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण,लॉकडाउन 4.0 में सामने आए करीब 86000 केस

COVID-19: दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग का निर्देश, 2 घंटे में शवगृह भेजे जाएं शव
First published: May 31, 2020, 3:55 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading