अब दिल्ली-मुंबई, दिल्ली-हावड़ा के बीच पर बढ़ेगी ट्रेनों की स्पीड

अब दिल्ली-मुंबई, दिल्ली-हावड़ा के बीच पर बढ़ेगी ट्रेनों की स्पीड
रेल मंत्री Suresh Prabhu ने बताया दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-हावड़ा गलियारों पर ट्रेनों की गति बढ़ाने के लिए एक परियोजना को मंजूरी दी गई है. Image Credit: Getty Images

प्रभु ने बताया कि परियोजनाओं से सभी ट्रेनों की गति में भी 25 से 30 फीसदी सुधार होगा.

  • Share this:
सरकार ने आज कहा कि नीति आयोग ने दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-हावड़ा गलियारों पर ट्रेनों की गति बढ़ा कर 160 से 200 किमी प्रतिघंटा करने के लिए 18,163 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत वाली दो परियोजनाओं का समर्थन किया है.

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज प्रश्नकाल के दौरान राज्यसभा को यह जानकारी दिया कि दिल्ली-मुंबई के 1,483 किमी लंबे मार्ग पर 11,189 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है जबकि 1,525 किमी लंबे दिल्ली-हावड़ा मार्ग की अनुमानित लागत 6,974 करोड़ रुपये है.

प्रभु ने यह भी बताया कि ये मार्ग उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, पश्चिम बंगाल और झारखंड से हो कर गुजरेंगे जहां पर देश की करीब दो-तिहाई आबादी रहती है.



उन्होंने कहा, ‘‘इन परियोजनाओं के कार्यान्वयन का मुख्य उद्देश्य इन मार्गों पर ट्रेन की अधिकतम गति 160 किमी प्रति घंटा करना है. इससे प्रमुख राजधानी जैसी ट्रेनों से यात्रा के समय में 12 घंटे तक की कमी होगी जबकि अभी इन राजधानी ट्रेनों से मुंबई जाने में 15 घंटे, तीस मिनट और हावड़ा जाने में 17 घंटे लगते हैं.’’
प्रभु ने बताया कि परियोजनाओं से सभी ट्रेनों की गति में भी 25 से 30 फीसदी सुधार होगा. उन्होंने यह भी बताया कि हजरत निजामुद्दीन से आगरा कैंट तक 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गतिमान एक्सप्रेस चलाई गई है.

रेल मंत्री ने बताया कि नयी दिल्ली-मुंबई (वड़ोदरा अहमदाबाद सहित) और नयी दिल्ली-हावड़ा (कानपुर लखनऊ सहित) के वर्तमान गलियारों पर ट्रेनों की गति 160 से 200 किमी प्रति घंटा करने की दोनों परियोजनाओं पर स्वीकृति के लिए विचार चल रहा है.

सदन में कुछ सदस्यों ने ट्रेनों के समय में विलंब और साफ-सफाई को लेकर चिंता जाहिर की तब मंत्री ने कहा कि इस पहलू पर काम जारी है.

उन्होंने बताया कि ट्रेनें लगभग 80 फीसदी सही समय पर चल रही हैं और शेष 20 फीसदी में सुधार के प्रयास जारी हैं. विद्युतीकरण वर्तमान में 42 फीसदी है जिसे दोगुना करने के प्रयास जारी हैं.

रेल मंत्री ने यह भी कहा कि माल भाड़ा गलियारे के साथ ही चीजों में और अधिक सुधार होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading