अपना शहर चुनें

States

महाराष्‍ट्र: औरंगाबाद में भी किसानों के 'रेल रोको' अभियान का असर, कई ट्रेनें प्रभावित

महाराष्‍ट्र के औरंगाबाद में भी किसान मोर्चा ने रेल रोको आंदोलन किया. (सांकेतिक चित्र)
महाराष्‍ट्र के औरंगाबाद में भी किसान मोर्चा ने रेल रोको आंदोलन किया. (सांकेतिक चित्र)

Rail Roko Movement of Kisan Morcha: संयुक्‍त किसान मोर्चा ने नए कृषि कानूनों को वापस लिए जाने की मांग पर राष्‍ट्रव्‍यापी रेल रोको आंदोलन की घोषणा की थी, जिसके तहत महाराष्‍ट्र के औरंगाबाद में भी लासुर रेलवे स्‍टेशन पर ट्रेनों को रोका गया. पुलिस ने 12 लोगों को हिरासत में लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 18, 2021, 7:49 PM IST
  • Share this:
औरंगाबाद (महाराष्ट्र). केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के रेल रोको आंदोलन के तहत एक संगठन ने गुरुवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले के लासुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों की आवाजाही को बाधित किया. संयुक्त किसान मोर्चा के तहत विभिन्न किसान संगठन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. संयुक्त किसान मोर्चा ने नए कानूनों को वापस लेने की अपनी मांग पर जोर देने के लिए राष्ट्रव्यापी रेल रोको आंदोलन की घोषणा की थी.

एक अधिकारी ने बताया कि लासुर रेलवे स्टेशन पर कम से कम 12 लोगों को हिरासत में लिया गया है. रेलवे पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, 'जालना-मुंबई जनशताब्दी ट्रेन को स्टेशन पर करीब 30 मिनट तक रोका गया. हमने करीब 12 आंदोलनकारियों को हिरासत में लिया है और आगे की जांच जारी है.’’ इसी प्रकार किसानों के संगठन अखिल भारतीय किसान सभा ने औरंगाबाद रेलवे स्टेशन के बाहर धरना दिया. एक अधिकारी ने कहा कि आंदोलन दोपहर 12 बजे शुरू हुआ.

ये भी पढ़े : 



कृषि कानूनों के खिलाफ रेल रोको आंदोलन, पंजाब-हरियाणा में ट्रेन की पटरियों पर जमा हुए किसान
Rail Roko Andolan: किसान रोकेंगे रेल, लेकिन यात्रियों को खिलाएंगे फ्रूट्स, पिलाएंगे दूध और पानी!

पुणे में भी रेल रोको, तीन पर मामला दर्ज
नए कृषि कानूनों के खिलाफ गुरुवार को विभिन्न संगठनों और राजनीतिक दलों से जुड़े सदस्यों ने महाराष्ट्र के पुणे रेलवे स्टेशन पर ‘‘रेल रोको’’ प्रदर्शन किया. प्रदर्शन कर रहे किसानों के संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की अपनी मांग को लेकर दबाव बनाने के लिए पिछले सप्ताह ‘रेल नाकाबंदी’ की घोषणा की थी. रेलवे सुरक्षा बल के एक अधिकारी ने कहा कि अवैध तरीके से रेलवे प्लेटफॉर्म पर आने, रेल की पटरी पार करने और नारेबाजी करने के आरोप में पवार समेत तीन कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है.



देशभर में कई जगहों पर हुए रेल रोको प्रदर्शन
तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ अपने आंदोलन को तेज करते हुए प्रदर्शनकारी किसान यूनियन ने आज राष्ट्रव्यापी ‘रेल रोको’ (Rail Roko) अभियान चलाया था. किसानों द्वारा कहा गया है, ‘पूरे देश में 18 फरवरी को दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे तक ‘रेल रोको’ अभियान चलाया जाएगा.’ तीन कृषि कानूनों को निरस्त किये जाने की मांग को लेकर इस महीने के शुरू में उन्होंने तीन घंटे के लिए सड़कों को अवरुद्ध किया था.

गौरतलब है कि दिल्ली की सीमाओं पर किसान पिछले कई महीनों से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं. इस बीच रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक अरुण कुमार ने बुधवार को कहा, ‘मैं सभी से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं. हम जिला प्रशासनों के साथ संपर्क बनाए रखेंगे और नियंत्रण कक्ष बनाएंगे.’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज