Home /News /nation /

Rail Budget: ट्रेनों और मेट्रो रेल नेटवर्क को लेकर बजट में हुई 'बड़ी घोषणाएं' एक क्लिक में जानें

Rail Budget: ट्रेनों और मेट्रो रेल नेटवर्क को लेकर बजट में हुई 'बड़ी घोषणाएं' एक क्लिक में जानें

कॉनकोर में सरकार ने 30.8 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का फैसला किया है.

कॉनकोर में सरकार ने 30.8 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का फैसला किया है.

Railway Budget 2021 : वित्‍त मंत्री ने कहा कि भारतीय रेलवे ने भारत के लिए एक राष्ट्रीय रेल योजना 2030 तैयार की है. इस योजना को 2030 तक 'भविष्य के लिए रेल तैयार' तंत्र को सृजित करना है.

रेल बजट 2021 (Railway Budget 2021) : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने बजट 2021 (Budget 2021) में भारतीय रेल (Indian Railways) और देशभर में मेट्रो रेल नेटवर्क के विस्‍तार के लिए बड़ी घोषणाएं कीं. इस बजट में रेलवे के लिए 1,10,055 करोड़ रुपये की एक रिकॉर्ड दी गई, जिसमें 1,07,100 रुपये पूंजीगत व्यय के लिए हैं. सरकार ने लक्ष्‍य रखा है कि ब्रॉडगेज रूटों का 100% विद्युतीकरण दिसंबर 2023 तक पूरा कर दिया जाएगा, जबकि डेडिकेटिड फ्रेट कोरिडोर के लिए भी सरकार ने कुछ बड़े ऐलान किए हैं…

वित्‍त मंत्री के अनुसार, भारतीय रेलवे ने भारत के लिए एक राष्ट्रीय रेल योजना 2030 तैयार की है. इस योजना को 2030 तक ‘भविष्य के लिए रेल तैयार’ तंत्र को सृजित करना है.

DFCCIL के लिए घोषणाएं…
-उद्योगों के लिए परिवहन लागत को कम करना मेक इन इंडिया को समर्थ बनाने के लिए हमारी रणनीति का मुख्य बिंदु है. यह संभावना है कि पश्चिमी समर्पित भाड़ा कॉरिडोर (डीएफसी) और पूर्वी डीएफसी जून 2022 तक चालू हो जाएगा.

2-021-22 में पूर्वी डीएफसी का सोननगर-गोमो खंड (263.7 किलोमीटर) पीपीपी मोड में शुरू किया जाएगा. 274.3 किलोमीटर का गोमो दानकुनी खंड भी इसके तत्काल बाद शुरू किया जाएगा. भावी समर्पित भाड़ा कॉरिडोर परियोजनाओं को निश्चित किया जाएगा. नामत: खड़गपुर से विजयवाड़ा तक पूर्वी तट कॉरिडोर, भुसावल से खड़गपुर से दानकुनी तक पूर्वी पश्चिमी कॉरिडोर और इटारसी से विजयवाड़ा तक उत्तर दक्षिण कॉरिडोर. प्रथम चरण में विस्तृत परियोजना रिपोर्ट निष्‍पादित की जाएंगी.

ब्रॉडगेज रूट…
-विद्युतीकरण ब्रॉडगेज रूट किलोमीटर (आरकेएम) के 46,000 आरकेएम अर्थात 1 अक्टूबर 2020 को 41,548 आरकेएम से 2021 के अंत तक 72% विस्तार तक पहुंचने की संभावना है. ब्रॉडगेज रूटों का 100% विद्युतीकरण दिसंबर 2023 तक पूरा हो जाएगा.

यात्री सुविधा और सुरक्षा के लिए …
-यात्रियों के लिए एक बेहतर यात्रा अनुभव प्रदान कराने के लिए पर्यटक रूटों पर सौंदर्यपरक रुप से डिजाइन किए गए बिस्‍ताडोम एलएचबी कोच आरंभ करेंगे.

-गत कुछ वर्षों में किए गए सुरक्षा उपायों के परिणाम प्राप्त हुए हैं. इस प्रयास को और सुदृढ़ करने के लिए भारतीय रेलवे के उच्च घनत्व नेटवर्क और कुछ उपयोग किए गए नेटवर्क रूटों को देसी रूप से विकसित स्वचालित ट्रेन संरक्षण प्रणाली प्रदान की जाएगी, जो मानवीय त्रुटि के कारण ट्रेन टकराने को समाप्त करेगी.

रेलवे को द‍िए 1,10,055 करोड़ रुपये…
-रेलवे के लिए 1,10,055 करोड़ रुपये की एक रिकॉर्ड राशि दी गई है, जिसमें 1,07,100 रुपये पूंजीगत व्यय के लिए हैं.

मेट्रो रेल नेटवर्क के लिए ऐलान…
-कुल 702 किलोमीटर परंपरागत मेट्रो परिचालन में हैं तथा 1016 किलोमीटर मेट्रो आरआरटीएस 27 शहरों में निर्माणाधीन हैं. दो नई प्रौद्योगिकी अर्थात मेट्रोलाइट और मेट्रोनियो समान अनुभव, सुविधा के साथ अपेक्षाकृत कम लागत पर मेट्रो रेल तंत्र प्रदान करने के लिए तथा टीयर-2 शहरों में सुरक्षा एवं टीयर-1 शहरों के परिधि क्षेत्रों में तैनात की जाएगी.

केंद्रीय हिस्से की धनराशि निम्नलिखित को दी जाएगी…

-कोच्चि मेट्रो रेल फेस-2, जिसकी लंबाई 11.5 किलोमीटर और लागत 1957.05 करोड़ रुपये होगी.

-चेन्नई मेट्रो रेलवे फेस-2, जिसकी लंबाई 118.9 किलोमीटर और लागत 63,246 करोड़ रुपये होगी.

-बेंगलुरू मेट्रो रेलवे प्रोजेक्ट फेस-2 और 2बी, जिसकी लंबाई 58.19 किलोमीटर और लागत 14,788 करोड़ रुपये होगी.

-नागपुर मेट्रो रेल परियोजना फेस टू और नासिक मेट्रो जिसकी लागत क्रमशः 5,976 करोड रुपए और 2000 करोड़ रुपये होगी.

Tags: Budget 2021, Indian Railways, Nirmala sitharaman, Rail Budget

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर