अपना शहर चुनें

States

राज्‍यसभा में बोले रेलमंत्री पीयूष गोयल, 22 महीने में ट्रेन से नहीं हुई एक भी यात्री की मौत

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा, पिछले 6 वर्षों में हमने अधिक से अधिक मात्रा में सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित किया है.. (फाइल फोटो)
रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा, पिछले 6 वर्षों में हमने अधिक से अधिक मात्रा में सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित किया है.. (फाइल फोटो)

राज्यसभा (Rajya Sabha) में रेलवे पुलों की स्थिति के बारे में बात करते हुए पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने कहा कि पिछले 6 वर्षों में हमने अधिक से अधिक मात्रा में सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित किया है. रेलवे दुर्घटना के कारण अंतिम यात्री की मौत 22 मार्च, 2019 को हुई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2021, 1:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राज्‍यसभा (Rajya Sabha) में रेलवे पुलों की स्थिति बताते हुए केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने बताया कि पिछले 22 महीनों में ट्रेन हादसे में एक भी यात्री की मौत नहीं हुई है. पीयूष गोयल ने कहा कि हमारी कोशिश है कि ट्रेन हादसों को ज्‍यादा से ज्‍यादा रोका जा सके, जिससे किसी के भी जानमाल का नुकसान न हो. उन्‍होंने कहा कि सरकार पिछले काफी समय से पुल की मरम्मत और रखरखाव पर अपना ध्यान केंद्रित कर रही है.

राज्यसभा में रेलवे पुलों की स्थिति के बारे में बात करते हुए गोयल ने कहा कि पिछले 6 वर्षों में हमने अधिक से अधिक मात्रा में सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित किया है. रेलवे दुर्घटना के कारण अंतिम यात्री की मौत 22 मार्च, 2019 को हुई थी. लगभग 22 महीनों में ट्रेन हादसों के कारण एक भी यात्री की मौत नहीं हुई है. मंत्री ने कहा कि सरकार ने पुल की मरम्मत और रखरखाव पर अपना ध्यान केंद्रित किया है.

इसे भी पढ़ें :- गुलाम नबी आजाद के बाद राज्यसभा में मल्लिकार्जुन खड़गे होंगे विपक्ष के नेता
पीयूष गोयल ने बताया कि हमने एक निरीक्षण सिस्‍टम तैयार किया है जो मानसून से पहले और मानसून के बाद प्रमुख पलों और रोड ओवर ब्रिजों का निरीक्षण करने के बाद उससे संबंधित एक डेटा तैयार कर निकटतम रेलवे स्‍टेशन को देता है, जिससे पुलों के बारे में सही जानकारी हासिल हो जाती है. उन्होंने कहा, 'आम जनता भी इस बात से अवगत हो सकती है कि रेलवे कैसे पुलों का रखरखाव कर रही है, जिससे आत्मविश्वास पैदा होगा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज