श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में अब तक 80 प्रवासी मजदूरों की मौत: RPF की रिपोर्ट

श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में अब तक 80 प्रवासी मजदूरों की मौत: RPF की रिपोर्ट
श्रमिकों की मौत लगभग रेलवे के सारे जोन में हुई है. (फोटो-AP)

RPF के एक अधिकारी ने कहा कि ये शुरुआती लिस्ट है. इस सिलसिले में राज्यों से बात करने के बाद फाइनल लिस्ट तैयार की जाएगी. यानी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Shramik special Trains) में हुई मौत का ये आंकड़ा बढ़ भी सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. श्रमिक स्पेशल ट्रेन से यात्रा करने वाले 80 प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) की अब तक मौत हो चुकी है. रेलवे सुरक्षा बल (RPF) के डेटा से इस बात का खुलासा हुआ है. ये आंकड़े 9 मई से लेकर 27 मई तक के हैं. बता दें कि लॉकडाउन लागू होने के चलते लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर देश के अलग-अलग शहरों में फंस गए. ऐसे में केंद्र सरकार ने मई के पहले हफ्ते से इन्हें अपने-अपने घर भेजना शुरू किया था.

बढ़ सकता है मौत का आंकड़ा
अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, RPF के एक अधिकारी ने मौत के आंकड़ों की पुष्टि कर दी है. उन्होंने कहा है कि ये शुरुआती लिस्ट है. इस सिलसिले में फाइनल लिस्ट राज्यों से बात करने के बाद तैयार की जाएगी. यानी मौत का ये आंकड़ा बढ़ भी सकता है. बुधवार को खबर आई थी कि पिछले कुछ दिनों में श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 9 लोगों की मौत हो गई है.

हर ज़ोन से आ रही है मौत कि रिपोर्ट



श्रमिकों की मौत रेलवे के लगभग सारे जोन में हुई है. उत्तर-मध्य जोन में अब तक 19 प्रवासियों की मौत हुई है. उत्तर-पूर्व रेलवे जोन से 18 लोगों की मौत की खबर है. ईस्ट-कोस्ट रेलवे जोन में 13 प्रवासियों की जान गई. मरने वालों की उम्र 4-85 साल के बीच है. ट्रेन 1 मई से चलनी शुरू हुई थी. लेकिन 1-8 मई के बीच कितने लोगों की मौत हुई या फिर नहीं हुई इसके आंकड़े फिलहाल उपलब्ध नहीं है.



मौत पर रेलवे की सफाई
रेलवे ने मौत को लेकर बयान जारी किया जिसमें कहा गया कि पहले से ही किसी बीमारी से जूझ रहे लोगों की श्रमिक ट्रेनों में मौत के कुछ दुर्भाग्यपूर्ण मामले सामने आए हैं. ऐसा देखा गया है कि पहले से ही किसी बीमारी से जूझ रहे कुछ लोग श्रमिक ट्रेनों में यात्रा कर रहे हैं, जिससे कोविड-19 संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है. साथ ही ये भी कहा गया कि कई लोग इलाज करने के लिए शहर गए थे.

ये भी पढ़ें:

Lockdown 5.0: तैयारियों में जुटा हिमाचल प्रशासन, सुबह 7 से शाम तक चलेंगी बसें

टिड्डियों को काबू में रखने के लिए क्या कर रही है मोदी सरकार? यहां जानें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading