भारतीय डाक की सहायता से घर तक सामान पहुंचाने की सेवा शुरू करने पर विचार कर रहा रेलवे

भारतीय डाक की सहायता से घर तक सामान पहुंचाने की सेवा शुरू करने पर विचार कर रहा रेलवे
भारतीय डाक की सहायता से घर तक सामान पहुंचाने की सेवा शुरू करने पर विचार कर रहा रेलवे (सांकेतिक तस्वीर)

मध्य रेलवे और भारतीय डाक (Central railway or Indian Post) की संयुक्त सेवा ‘भारतीय डाक रेलवे पार्सल सेवा’ का इस्तेमाल लॉकडाउन के दौरान दो वेंटिलेटर को नागपुर से मुंबई भेजने के लिए किया गया था.

  • Share this:
नई दिल्ली. रेलवे बोर्ड (Railway Board) के अध्यक्ष वीके यादव ने गुरुवार को कहा कि देश भर में घर तक सामान पहुंचाने के लिए रेलवे, भारतीय डाक (Indian Post) की सेवाओं के इस्तेमाल पर विचार कर रहा है. महाराष्ट्र में मध्य रेलवे द्वारा इस प्रकार की परियोजना चलाई गई थी.

मध्य रेलवे और भारतीय डाक (Central railway or Indian Post)  की संयुक्त सेवा ‘भारतीय डाक रेलवे पार्सल सेवा’ का इस्तेमाल लॉकडाउन के दौरान दो वेंटिलेटर को नागपुर से मुंबई भेजने के लिए किया गया था. घर से घर तक सामान पहुंचाने की इस सेवा में चौबीस घंटे लगे थे. यादव ने कहा, “इस घर से घर तक सामान पहुंचाने की सेवा है. मध्य रेलवे ने पायलट परियोजना की थी और अब हम इसे पूरे देश में शुरू करना चाहते हैं.”

उन्होंने कहा, “हम इसे डाक सेवा के सहयोग से करना चाहते हैं. वह कम दूरी तक यह कार्य करते हैं, रेलवे के छोर से दूसरे छोर तक लंबी दूरी के लिए कर सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading