महाराष्ट्र, उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में बारिश का कहर; असम और बिहार में हालात गंभीर

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), नौसेना, वायुसेना, सेना, रेलवे और राज्य प्रशासन की टीमों ने यात्रियों को बचाने अभियान चलाया.

भाषा
Updated: July 27, 2019, 11:27 PM IST
महाराष्ट्र, उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में बारिश का कहर; असम और बिहार में हालात गंभीर
राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), नौसेना, वायुसेना, सेना, रेलवे और राज्य प्रशासन की टीमों ने यात्रियों को बचाने अभियान चलाया. (PTI Photo)
भाषा
Updated: July 27, 2019, 11:27 PM IST
लगातार हो रही भारी बारिश के कारण देश के कई हिस्से भयंकर बाढ़ की चपेट में हैं. महाराष्ट्र के ठाणे जिले में भारी बारिश के कारण बाढ़ आ गई, जहाँ सैकड़ों असहाय लोगों को एक ट्रेन और अन्य स्थानों से बचाया गया, जबकि असम और बिहार में स्थिति गंभीर बनी हुई है, जहां अब तक 214 लोगों की जान जा चुकी है.

बारिश ने राजस्थान में भी तबाही मचायी है, जहां पिछले दो दिनों में बारिश संबंधित घटनाओं में 13 लोगों की मौत हो गई है. उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में भारी बारिश के बाद छत गिरने से एक लड़की की मौत हो गई.

जम्मू-कश्मीर में एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई, जहां रुक-रुक कर बारिश हो रही थी. बारिश से अमरनाथ यात्रा भी प्रभावित हुई. केवल 3,124 तीर्थयात्री दक्षिण कश्मीर हिमालय के अमरनाथ स्थित पवित्र गुफा मंदिर में दर्शन कर पाए. बारिश के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात बाधित हो गया.

यह भी पढ़ें:  उफनती नदी से निकल रहे थे बाइक सवार, तभी धंस गया पुल... VIDEO

दिल्ली में 5.25 मिमी बारिश

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 5.25 मिलीमीटर बारिश हुई और अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 32.5 और 25.4 डिग्री सेल्सियस पर आ गया.

मौसम विभाग ने रविवार को हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान जताया है.
Loading...

महाराष्ट्र में कोल्हापुर जाने वाली महालक्ष्मी एक्सप्रेस में सवार सभी 1,050 यात्रियों को शनिवार को बचा लिया गया. यात्रियों को बचाने के लिए विभिन्न राहत एजेंसियों द्वारा लगभग 17 घंटे तक अभियान चलाया गया.

भारी बारिश के कारण रेल पटरियों पर पानी भरने से यह ट्रेन ठाणे जिले में वंगानी के निकट फंस गई थी..

यह भी पढ़ें:  तस्वीरों में देखिए बिहार में बाढ़ का कहर

गर्भवती महिलाओं को बचाया गया

मध्य रेलवे (सीआर) के अधिकारियों ने बताया कि नौ गर्भवती महिलाओं समेत सभी यात्रियों को अपराह्र तीन बजे तक बचा लिया गया.

भारतीय वायुसेना ने ठाणे जिले में भारी बारिश के चलते अचानक आई बाढ़ की वजह से फंसे 120 से अधिक लोगों को हेलीकॉप्टर के जरिए सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया.

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), नौसेना, वायुसेना, सेना, रेलवे और राज्य प्रशासन की टीमों ने यात्रियों को बचाने अभियान चलाया.

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राहत दलों की प्रशंसा करते हुए कहा कि केन्द्र स्थिति पर करीबी नजर रखे हुए है.

यह भी पढ़ें:  चीन ने भारत के बाढ़ ग्रस्त इलाकों का सेटेलाइट डाटा भेजा
First published: July 27, 2019, 11:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...