Assembly Banner 2021

राज ठाकरे के बिगड़े बोले, महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के लिए प्रवासी मजदूरों पर फोड़ा ठीकरा

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे. (पीटीआई फाइल फोटो)

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे. (पीटीआई फाइल फोटो)

Maharashtra Coronavirus News: मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने कहा, ‘‘पिछले साल लॉकडाउन के दौरान मैंने सुझाव दिया था कि जो प्रवासी अपने मूल स्थानों पर लौटे हैं, उनकी जांच कराई जानी चाहिए, लेकिन ऐसा नहीं किया गया.’’

  • Share this:
मुम्बई. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने मंगलवार को कहा कि अन्य राज्यों से आये प्रवासी श्रमिक महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Coronavirus) के तेजी से फैलने के लिए जिम्मेदार हैं. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ डिजिटल संवाद के बाद राज ठाकरे ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘महाराष्ट्र भारत में सबसे अधिक औद्योगिकीकृत राज्य हैं जो अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में श्रमिकों को आकर्षित करता है. जिन स्थानों से ये श्रमिक आये हैं, वहां पर्याप्त जांच सुविधाएं हैं नहीं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ पिछले साल लॉकडाउन के दौरान मैंने सुझाव दिया था कि जो प्रवासी अपने मूल स्थानों पर लौटे हैं, उनकी जांच करायी जानी चाहिए, लेकिन ऐसा नहीं किया गया.’’ राजठाकरे ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री से आपस में दूरी बनाकर खिलाड़ियों को प्रैक्टिस करने और जिमों को अपना काम करने देने की मांग की है.

सोमवार रात से महाराष्ट्र में लगायी गयी नयी पाबंदियों का हवाला देते हुए मनसे अध्यक्ष ने कहा कि इस अवधि में दुकानें कम से कम दो-तीन दिन खुली रहने दी जानी चाहिए. रविवार को घोषित पाबंदियों के अनुसार महाराष्ट्र में जरूरी सेवा वाली दुकानें, दवा दुकानों और किराना दुकानों को छोड़कर बाकी सभी दुकानें 30 अप्रैल तक बंद रहेंगी.
Youtube Video

राज ठाकरे ने कहा, ‘‘सरकार कहती है कि पाबंदियों के दौरान विनिर्माण की अनुमति होगी. यदि दुकानों को ही खुलने की अनुमति नहीं होगी, तो विनिर्माण गतिविधि को जारी रखने का इजाजत देने का क्या तुक है.’’ महाराष्ट्र में पिछले पिछले सप्ताहों में बड़ी संख्या में कोरोना वायरस के नये मामले सामने आये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज