Home /News /nation /

Rajasthan Cabinet Expansion: CM अशोक गहलोत से विधायक ने पूछा सवाल- क्या मंत्री बनने के लिए कोई खास योग्यता चाहिए?

Rajasthan Cabinet Expansion: CM अशोक गहलोत से विधायक ने पूछा सवाल- क्या मंत्री बनने के लिए कोई खास योग्यता चाहिए?

 कांग्रेस विधायक दयाराम परमार ने सीएम अशोक गहलोत को चिट्ठी लिखी है. (फ़ाइल फोटो)

कांग्रेस विधायक दयाराम परमार ने सीएम अशोक गहलोत को चिट्ठी लिखी है. (फ़ाइल फोटो)

Rajasthan Cabinet Expansion: राज्य की कांग्रेस सरकार अगले महीने अपने कार्यकाल के तीन साल पूरे करने जा रही है. मंत्रिमंडल में ये पहला फेरबदल है जिसे पार्टी आलाकमान द्वारा क्षेत्रीय और जातीय संतुलन के साथ साथ पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट खेमे को साधने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है. पार्टी सूत्रों का कहना है कि राज्य में 2023 के आखिर में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए इस पुनर्गठन के जरिए क्षेत्रीय व जातीय संतुलन भी साधने की कोशिश की गई है। जिन तीन मंत्रियों को राज्यमंत्री से कैबिनेट मंत्री बनाया गया है वे अनुसूचित जाति से हैं। नए कैबिनेट मंत्रियों में चार अनुसूचित जाति से, तीन अनुसूचित जनजाति से होंगे.

अधिक पढ़ें ...

    ज्यपुर.  राजस्थान में अशोक गहलोत मंत्रिमंडल में फेरबदल (Gehlot cabinet expansion) रविवार को पूरा हो गया. सत्तारूढ़ कांग्रेस के 15 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली. राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र ने 11 विधायकों को कैबिनेट और चार विधायकों को राज्य मंत्री के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इस बीच शपथग्रहण समारोह के बाद नेताओं की नाराज़ी भी खुलकर सामने आने लगी है. खेरवाड़ा से कांग्रेस विधायक दयाराम परमार (Dayaram Parmar) ने मंत्री न बनाए जाने पर नाराजगी ज़ाहिर की है. परमार ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से पूछा है कि उन्हें क्यों मंत्री नहीं बनाया गया.

    समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक कांग्रेस विधायक दयाराम परमार ने सीएम अशोक गहलोत को चिट्ठी लिखी है. परमार ने लिखा है, ‘ऐसा लगता है कि मंत्री बनने के लिए कुछ विशेष योग्यताओं की जरूरत होती है. कृपया मुझे बताएं कि वे योग्यताएं क्या हैं ताकि मैं भविष्य में मंत्री बनने के लिए उन्हें हासिल कर सकूं.’

    कई विधायक नाराज़
    कहा जा रहा है कि कई विधायक नाराज़ चल रहे हैं. राज्यमंत्री बनाए गए पायलट गुट के बृजेन्द्र ओला कैबिनेट मंत्री न बनाने से खुश नहीं दिखे. ओला ने कहा कि पार्टी ने जितना समझा उतना ही ठीक. उधर अलवर के कठूमर से कांग्रेस विधायक बाबू लाल बैरवा की नाराजगी भी खुल कर सामने आ गई. वो शपथ ग्रहण समारोह में नहीं पहुंचे. हालांकि बैरवा ने कहा कि वे नाराज नहीं हैं. बैरवा ने कहा कि वे लंबे समय से अशोक गहलोत के साथ हैं.

    इन्हें मिला मौका
    राज्यपाल मिश्र ने विधायक हेमाराम चौधरी, महेंद्रजीत मालवीय, रामलाल जाट, महेश जोशी, विश्वेंद्र सिंह, रमेश मीणा, ममता भूपेश, भजनलाल जाटव, टीकाराम जूली, गोविंद राम मेघवाल व शकुंतला रावत को कैबिनेट मंत्री पद की शपथ दिलाई. वहीं, जाहिदा खान, बृजेंद्र ओला, राजेंद्र गुढ़ा व मुरारीलाल मीणा को राज्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई. नये मंत्रियों में ममता भूपेश, भजनलाल जाटव व टीकाराम जूली को राज्यमंत्री से पदोन्नत कर कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई है.

    Tags: Ashok Gehlot Government, Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर