होम /न्यूज /राजस्थान /राजस्थान संकटः कांग्रेस विधायकों के शक्ति प्रदर्शन से आलाकमान नाराज, अब इस फॉर्मूले पर कर रहा काम

राजस्थान संकटः कांग्रेस विधायकों के शक्ति प्रदर्शन से आलाकमान नाराज, अब इस फॉर्मूले पर कर रहा काम

सूत्रों ने बताया है कि पार्टी में चल रहे गतिरोध को खत्म करने के लिए एक नया फार्मूला तैयार किया गया है.

सूत्रों ने बताया है कि पार्टी में चल रहे गतिरोध को खत्म करने के लिए एक नया फार्मूला तैयार किया गया है.

सोनिया गांधी ने निर्देश दिया है कि केंद्रीय पर्यवेक्षक सभी विधायक से एक-एक कर मुलाकात करेंगे. सूत्रों ने दावा किया है क ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

सूत्रों के मुताबिक, राजस्थान कांग्रेस में चल रहे गतिरोध को खत्म करने के लिए एक फॉर्मूला तैयार किया गया है.
अजय माकन पार्टी के सभी विधायकों से बातचीत करके इस फार्मूले पर विधायकों की राय ले सकते हैं.
सूत्रों के मुताबिक, विधायकों के इस तरह शक्ति प्रदर्शन से पार्टी हाईकमान काफी नाराज है.

जयपुर. राजस्थान में चल रही कांग्रेस की अंदरूनी लड़ाई को रोकने के लिए अब एक नया फॉर्मूला सेट किया जा रहा है. सूत्रों के मुताबिक, पार्टी आलाकमान कांग्रेस विधायक के बीच एक नए फॉर्मूले पर सहमति बनाने के लिए काम कर रहा है. इस नए फॉर्मूले के मुताबिक, सचिन पायलट को सीएम बना दिया जाए और बाकी सभी मंत्री गहलोत कैंप से बना दिया जाए. साथ ही राजस्थान में सरकार चलाने के लिए गहलोत-पायलट कैंप में संतुलन के लिए कोऑर्डिनेशन कमेटी भी बनाने का फार्मूला है.

वहीं सूत्रों के मुताबिक, अशोक गहलोत और सचिन पायलट आज सोनिया गांधी से मुलाकात के लिए दिल्ली नहीं जाएंगे. अभी पर्यवेक्षक के तौर पर जयपुर पहुंचे अजय माकन पार्टी के सभी विधायकों से बातचीत करके इस फार्मूले पर विधायकों की राय ले सकते हैं.

सोनिया गांधी ने निर्देश दिया है कि केंद्रीय पर्यवेक्षक सभी विधायक से एक-एक कर मुलाकात करेंगे. सूत्रों ने दावा किया है कि केंद्रीय पर्यवेक्षक और राज्य प्रभारी हर एक विधायक से व्यक्तिगत तौर पर मिलकर राय लेंगे. साथ ही इसके बाद एक लाइन का प्रस्ताव पारित किया जाएगा और फिर अध्यक्ष को नया सीएम चेहरा तय करने को अधिकृत किया जाएगा. सूत्रों ने बताया कि अलग से बैठक बुलाने और शक्ति प्रदर्शन के बाद इस तरह के रवैये से पार्टी हाईकमान काफी नाराज है.

बता दें कि राजस्थान में सीएम अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद प्रदेश में नए मुख्यमंत्री को लेकर पार्टी दो फाड़ में नजर आ रही है. अशोक गहलोत कैंप के विधायक सचिन पायलट को सीएम बनाने जाने के लिए तैयार नहीं है. ऐसे में उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी के घर पहुंच कर सामूहिक रूप से इस्तीफा सौंप दिया है. हालांकि अभी कुछ देर पहले ही सभी विधायक सीपी जोशी के आवास से रवाना हो गए हैं.

गहलोत समर्थक विधायकों ने कहा कि उन्होंने अपनी बात कह दी और पार्टी हाईकमान की तरफ से जब पूछा जाएगा तब बता दिया जाएगा. वहीं राजस्थान सरकार में मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास और शांति धारीवाल सीएम अशोक गहलोत के आवास पर मौजूद कांग्रेस पर्यवेक्षक अजय माकन और मल्लिकार्जुन खड़गे से मुलाकात की.

Tags: Congress, Rajasthan Congress

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें