शुभेंदु अधिकारी के बाद अब राजीव बनर्जी का TMC से हुआ मोहभंग! कही ये बात

पश्चिम बंगाल के वन मंत्री राजीव बनर्जी का TMC के शीर्ष नेतृत्व पर लगाया बड़ा आरोप.

ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) मंत्रिमंडल में शामिल वन मंत्री राजीव बनर्जी (Rajib Banerjee) ने आरोप लगाते हुए कहा कि नेतृत्व से करीबी संबंध रखने वालों को महत्व दिया जाता है, जब​कि मेहनती कार्यकर्ताओं को दरकिनार किया जा रहा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के अंदर कुछ भी सही चलता दिख रहा है. ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) मंत्रिमंडल में शामिल रहे शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) के बाद अब राज्य के वन मंत्री राजीव बनर्जी (Rajib Banerjee) ने भी तृणमूल सरकार के खिलाफ बगावती तेवर दिखाए हैं. राजीव बनर्जी ने आरोप लगाते हुए कहा कि नेतृत्व से करीबी संबंध रखने वालों को महत्व दिया जाता है जब​कि मेहनती कार्यकर्ताओं को दरकिनार किया जा रहा है.

    राजीव बनर्जी ने बगावती तेवर दिखाते हुए कहा कि आजकल राजनीति में कुछ ऐसे लोग हैं जो सत्ता का आनंद लेने के बारे में सोचते हैं और लोगों की सेवा करना उनका किसी भी तरह का कोई लक्ष्य नहीं है. राज्य के वन मंत्री ने एक कार्यक्रम में कहा, एक राजनीतिक मंच का इस्तेमाल देश और राज्य की जनता की मदद के लिए किया जा सकता है, लेकिन कई लोगों ने राजनीतिक मंच को व्यक्तिगत लक्ष्यों के उपयोग के लिए करना शुरू कर दिया है.

    उन्होंने कहा, मुझे ये देखकर काफी दुख होता है कि जो लोग जनता के हित में काम कर रहे हैं और लगातार पार्टी के लिए मेहनत कर रहे हैं, उन्हें ही पार्टी के अंदर उचित महत्व नहीं दिया जा रहा है. वहीं दूसरी तरफ जो लोग वातानुकूलित कक्षों में बैठे हैं और सोचते हैं कि जनता को बेवकूफ बनाया जा सकता है, उन्हें सिर्फ इसलिए महत्व मिल रहा है क्योंकि वह पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को खुश करके रखते हैं.

    इसे भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल: ममता सरकार को बड़ा झटका, शुभेंदु अधिकारी ने दिया इस्तीफा

    राजीव बनर्जी के इस बयान पर अब तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी ने भी कड़े तेवर दिखाए हैं. उन्होंने कहा है कि जो पार्टी को छोड़ना चाहता है वह जा सकता है. उन्होंने कहा ममता बनर्जी एक पेड़ की तरफ हैं. यदि कोई उनकी छाया छोड़ना चाहता हैं तो वह जाने के लिए स्वतंत्र है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.