पूर्व वित्त सचिव राजीव कुमार बनाए गए नए चुनाव आयुक्त, अशोक लवासा की जगह लेंगे

पूर्व वित्त सचिव राजीव कुमार बनाए गए नए चुनाव आयुक्त, अशोक लवासा की जगह लेंगे
पूर्व वित्त सचिव राजीव कुमार बनाए गए नए चुनाव आयुक्त (फाइल फोटो)

अशोक लवासा (Ashok Lavasa) ने मंगलवार को चुनाव आयुक्त पद से इस्तीफा दे दिया था, क्योंकि अब वो एशियाई विकास बैंक (ADB) के उपाध्यक्ष के रूप में जिम्मेदारी संभालेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 22, 2020, 12:40 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व वित्त सचिव राजीव कुमार (Rajiv Kumar) को नया चुनाव आयुक्त (Election Commissioner) बनाया गया है. वह अशोक लवासा (Ashok Lavasa) की जगह लेंगे. विधि मंत्रालय ने शुक्रवार रात को अधिसूचना जारी करके यह जानकारी दी. मंत्रालय ने कहा कि राजीव कुमार वर्तमान चुनाव आयुक्त अशोक लवासा की जगह लेंगे, जो कि 31 अगस्त को अपने कार्यभार से मुक्त हो रहे हैं.
विधि मंत्रालय ने अधिसूचना में कहा, 'चुनाव आयुक्त के पद पर राजीव कुमार की नियुक्ति से राष्ट्रपति खुश हैं. चुनाव आयुक्त के रूप में उनकी नियुक्ति उसी समय से प्रभावी होगी जब अशोक लवासा का इस्तीफा प्रभावी होगा.' बता दें कि राजीव कुमार भारतीय प्रशासनिक सेवा के 1984 बैच के झारखंड कैडर अधिकारी हैं.

राजीव कुमार का कार्यकाल 4.5 साल का होगा. सबकुछ सामान्य रहा तो 2024 का लोकसभा चुनाव राजीव कुमार के नेतृत्व में होगा. पूर्व वित्त सचिव और झारखंड कैडर के पूर्व आईएएस राजीव कुमार को राष्ट्र्पति ने चुनाव आयुक्त नियुक्त किया है. राजीव कुमार चुनाव आयोग में दूसरे चुनाव आयुक्त होंगे. अशोक लवासा के इस्तीफे के बाद चुनाव आयोग में खाली चुनाव आयुक्त के पद पर उन्हें नियुक्त किया गया है. मौजूदा में राजीव कुमार PSEB के चैयरमैन पद पर कार्यरत हैं. नवनियुक्त चुनाव आयुक्त राजीव कुमार अशोक लवासा के 31 अगस्त को कार्यमुक्त होने पर अपना पदभार ग्रहण करेंगे. अशोक लवासा को एशियन डेवलपमेंट बैंक में उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है.

2024 का लोकसभा चुनाव राजीव कुमार के मुख्य चुनाव आयुक्त रहते हुए होगा !
राजीव कुमार का जन्म 19 फरवरी, 1960 है. यानी चुनाव आयोग में राजीव कुमार का कार्यकाल करीब 4.5 साल का होगा और सबकुछ सामान्य रहा तो अगला यानी 2024 के लोकसभा चुनाव राजीव कुमार मुख्य चुनाव आयुक्त होंगे और तब तक मौजूदा मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा और चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा अपना कार्यकाल पूरा कर चुके होंगे. सुनील अरोड़ा के बाद मौजूदा चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा मुख्य चुनाव आयुक्त बनेंगे और इसके बाद राजीव कुमार का नंबर आएगा. हालांकि चुनाव आयुक्त के बाद मुख्य चुनाव आयुक्त बनने के लिये राष्ट्र्पति की तरफ से औपचारिक नियुक्ति की जाती है लेकिन परम्परा के अनुसार वरिष्ठ चुनाव आयुक्त ही अगला मुख्य चुनाव आयुक्त बनता रहा है.



Rajiv Kumar appointed as the Election Commissioner following the resignation of Ashok Lavasa. pic.twitter.com/9dNc0P4Efe



गौरतलब है कि अशोक लवासा (Ashok Lavasa)  ने मंगलवार को चुनाव आयुक्त पद से इस्तीफा दे दिया था, क्योंकि अब वो एशियाई विकास बैंक (ADB) के उपाध्यक्ष के रूप में जिम्मेदारी संभालेंगे. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने राजीव कुमार को वित्त सचिव मनोनीत किया था. उन्हें सुभाष चंद्र गर्ग की जगह वित्त सचिव बनाया गया था. गर्ग को स्थानांतरित कर बिजली सचिव बनाया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज